आचार संहिता: फ्लाईओवर और रोपवे समेत इंफ्रास्ट्रक्चर विकास के अटक जाएंगे कई काम

चुनाव आचार संहिता हटने के बाद जून में हो सकें गे शुरू

 

 

By: prashant gadgil

Updated: 11 Mar 2019, 08:20 PM IST

जबलपुर . मदनमहल पहाड़ी पर रोपवे की स्थापना के लिए अभी और इंतजार करना होगा। नर्मदा पर बनने वाले दो पुल व एक केबल ब्रिज का निर्माण भी फिलहाल अटक गया है। शहर में इंफ्रास्ट्रक्चर विकास से जुड़े एक दर्जन के लगभग काम फिलहाल अटक गए हैं। चुनाव आचार संहिता लागू होने के साथ ही नए प्रोजेक्ट की शुरुआत पर रोक लग गई है। यानी टेंडर जारी करने से लेकर नए निर्माण कार्य शुरू करने की प्रक्रिया फिलहाल थम हो गई है। यानी इन प्रोजेक्ट पर काम अब लोकसभा चुनाव परिणाम आने के बाद जून में शुरू हो सकें गे। चुनाव आचार संहिता हटने के बाद निर्माण कार्यों के लिए महज एक पखवाड़े का समय मिलेगा। इसके बाद मानसून सीजन शुरू हो जाएगा। बारिश के सीजन में बड़े काम नहीं हो पाते हैं। एेसे में शहर विकास से जुड़े ज्यादातर महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट पर काम बरसात का सीजन बीतने के बाद शुरू हो सकेगा। इतना ही नहीं बरसात के बाद भी नए निर्माण कार्य शुरू करने के लिए केवल दो महीने का अवसर मिलेगा। इस अवधि में प्रोजेक्ट शुरू नहीं हो पाते हैं तो काम फिर अटक जाएगा। इसी साल नवंबर-दिसंबर में नगर निगम का भी चुनाव होना है।

ये महत्वाकांक्षी प्रोजेक्ट अटकें गे

-ग्वारीघाट में केबल ब्रिज निर्माण
-49.73 करोड़ से लम्हेटाघाट पुल
-26.18 करोड़ से सरस्वतीघाट में पुल निर्माण
-15 करोड़ की लागत से मदनमहल पहाड़ी पर रोपवे की स्थापना
-तिलवाराघाट से मंडला बायपास तक नर्मदा दर्शन पथ का निर्माण
-1500 करोड़ से ग्रेटर रिंग रोड निर्माण
-750 करोड़ से दमोहनाका से मदनमहल चौक फ्लाईओवर निर्माण
-90 करोड़ से जेडीए की योजना क्र.41 से धनवंतरि नगर ओवरब्रिज निर्माण
-भेड़ाघाट में लेजर शो फिर शुरू करने टेंडर प्रक्रिया अटकी
महज एक पखवाड़े का मिलेगा समय

 

prashant gadgil Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned