फर्जी मार्कशीट बनाने वालों का इंटरस्टेट कनेक्शन, फर्जीवाड़े में बड़ा रैकेट

फॉलोअप-गढ़ा पुलिस की एक टीम दिल्ली रवाना, फर्जीवाड़े में बड़ा रैकेट

By: santosh singh

Published: 16 Oct 2020, 02:23 PM IST

जबलपुर। फेक वेबसाइट बनाकर फेल छात्रों को फर्जी मार्कशीट बनाकर देने वाले गिरोह का नेटवर्क कई राज्यों में फैला है। गढ़ा पुलिस की एक टीम दिल्ली रवाना हुई है। दिल्ली में भी इस फर्जीवाड़ से जुड़े लोगों की जानकारी सामने आयी है। गढ़ा पुलिस की एक टीम मामले में दिल्ली रवाना हुई है। वहीं दूसरी ओर कई और पीडि़त सामने आए हैं। पुलिस को छानबीन में पता चला है कि ये गिरोह पिछले तीन वर्षों से इस फर्जीवाड़ा में लिप्त था।
पुलिस के अनुसार 13 अक्टूबर को गढ़ा और क्राइम ब्रांच की संयुक्त टीम ने अंकुर डागौर नाम के पीडि़त की शिकायत पर शारदा चौक स्थित इंदिरा गांधी शिक्षण संस्थान में दबिश दी थी। अंकुर ने शिकायत में आरोप लगाया था कि यहां फर्जी अंकसूची बनाकर छात्रों के भविष्य से खिलवाड़ा किया जा रहा है। पुलिस ने मामले में भारत कॉलोनी गढ़ा निवासी प्रेम कुमार पवार, त्रिमूर्ति स्कूल के पास रहने वाले संजय यादव और बीटी कम्पाउंड मदनमहल निवासी अजय विश्वकर्मा को गिरफ्तार किया था। छानबीन में सामने आया कि उक्त गिरोह परीक्षा में फेल हुए छात्रों को भरोसे में लेकर उनसे 20 से 30 हजार रुपए लेकर प्रवेश फार्म भरवाते थे। फिर बिना किसी परीक्षा के छात्रों के साथ धोखाधड़ी कर, कूटरचित फर्जी मार्कशीट बनाकर देते थे। आरोपी इतने शातिर हैं कि फर्जी वेबसाइट बनाकर फर्जी मार्कशीट ऑनलाईन दिखा देते थे।
इन दस्तावेजों की अलग-अलग राज्यों में जांच शुरू-
आरोपियों के पास से इंदिरा गांधी एजुकेशन संस्थान जबलपुर के एडवरटाईजमेन्ट पम्पलेट, बोर्ड ऑफ हायर सेकण्डरी एजुकेशन दिल्ली के एग्जामिनेशन फॉर्म, भारतीय विद्यालय शिक्षा संस्थान की 10वीं तथा 12 वीं की अंकसूची , महात्मा गांधी काशी विद्यापीठ वाराणासी उत्तरप्रदेश की बीकॉम की फर्जी अंकसूची, इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट की अंकसूची, सर्टिफिकेट ,बीएएमएस की डिग्री, महात्मा गांधी विद्यापीठ वाराणसी उत्तर प्रदेश की बीकाम की प्रथम वर्ष और द्वितीय वर्ष की अंकसूची, फर्जी प्रवेश फार्म आदि जब्त हुए हैं। इस कारण टीम दिल्ली, यूपी रवाना हुई है। गढ़ा पुलिस मामले में धारा 420, 465, 467, 468, 120 बी, भादवि का प्रकरण दर्ज कर जांच कर रही है।
वर्जन-
फर्जी मार्कशीट मामले में कई राज्यों में नेटवर्क होने की जानकारी सामने आई है। कुछ टीम दिल्ली आदि शहरों में भेजी गई है।
रोहित काशवानी, सीएसपी, गढ़ा

Show More
santosh singh Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned