महिला से बनाए संबंध, बनाया वीडियो, विवाद हुआ तो कर दिया वायरल- देखें जबलपुर न्यूज बुलेटिन

Lalit kostha

Publish: Sep, 17 2017 04:01:30 (IST) | Updated: Sep, 17 2017 04:23:36 (IST)

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
महिला से बनाए संबंध, बनाया वीडियो, विवाद हुआ तो कर दिया वायरल- देखें जबलपुर न्यूज बुलेटिन

जबलपुर, नरसिंहपुर, कटनी और गाडरवारा की खबरों के लिए देखें पत्रिका डॉट कॉम

शहर के हाई प्रोफाइल ब्लैकमेलिंग मामले के रोज नए खुलासे हो रहे हैं। कभी पीडि़ता डॉक्टर को दोषी बताती है तो कभी आरोपित डॉक्टर ही महिला को निर्दोष बता देता है। अब एक नया मोड़ मामले में आया है। जब मुख्य आरोपी ने डॉक्टर पर नए खुलासे किए हैं। मुख्य आरोपित सुरेन्दर सिंह उर्फ लकी ने शनिवार को सनसनीखेज खुलासा किया। डॉ. सचिन लूथरा पर इलाज की आड़ में कई युवतियों के शोषण का आरोप लगाया। उसने कहा कि डॉक्टर की गुंडे, बदमाश और रसूखदारों से पहचान है, इसलिए शोषण का शिकार हुई लड़कियां सामने नहीं आईं। शनिवार को पुलिस रिमांड खत्म होने के बाद लकी को पुलिस पुन: न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जेल भेज दिया गया।

लकी ने पुलिस को बताया कि डॉ. लूथरा ने पहले जिस युवती के खिलाफ रिपोर्ट लिखाई और जेल भिजवाकर फिर निर्दोष बताया, उसके डॉक्टर से शारीरिक सम्बंध थे। युवती के गर्भवती होने पर शहर के एक नामचीन अस्पताल में डॉ. झारिया से गर्भपात कराया गया था। उसने यह भी कहा कि यदि गर्भपात कराने वाली युवती और डॉक्टर की ३० जून की कॉल डिटेल्स और टॉवर लोकेशन निकाली जाए तो मामला साफ हो जाएगा।

तालाब में डूबने से मौत, परिजनों ने लगाया साथी पर आरोप
गुलौआ तालाब में शनिवार को एक व्यक्ति की डूबने से मौत हो गई। संजीवनी नगर पुलिस ने शव को पीएम के लिए भेज जांच शुरू कर दी है। सिंगरहा मोहल्ला निवासी महादेव सिंगरहा (४५) सुबह गुलौआ ताल गया था। जहां वह संदिग्ध परिस्थितियो में डूब गया। इधर परिजन का कहना है कि महेश और मदन नाम के दो लोग उनके घर पहुंचे और महादेव को तालाब ले गए थे। दोपहर में महादेव ने घर में मछलियां भी भेजी थी, जो उसने तालाब से पकड़ीं थीं।
------------------------
युवक कांग्रेस के सम्मेलन में आरोप, नोटबंदी से देश की अर्थव्यवस्था वर्षों पीछे

शनिवार को मानस भवन में 'नोटबंदी से देश व आम जनता पर आए आर्थिक संकट के लिए जिम्मेदार कौन?Ó विषय पर परिचर्चा आयोजित हुई। इसमें राज्यसभा सदस्य विवेक तन्खा ने कहा
नोटबंदी के फैसले ने अर्थव्यवस्था को इतने पीछे धकेल दिया है कि देश सालों उबर नहीं पाएगा। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कहा था, नोटबंदी से कालाधन, भ्रष्टाचार, आतंकवाद, नक्सलवाद खत्म होगा। जाली नोट प्रचलन से बाहर होंगे। डिजिटल ट्रांजेक्शन बढ़ेगा। इनमें से कोई भी उद्देश्य पूरा नहीं हुआ। बिना सोचे-समझे लिया गया फै सला फे ल गया है।
------------------------------
नगर निगम में बेकार बहा रहे पानी, सुधारा फुहारा
नगर निगम दूसरों को जल संवर्धन और संरक्षण की अपील कर रहा है, लेकिन खुद इसका पालन नहीं कर रहा है। शनिवार को नगर निगम का फुहारा सुधारा गया, जो की कई महीनों से बंद पड़ा था। इसकी सुध इसलिए भी ली गई है क्योंकि नवरात्र आने वाले हैं। जहां सभी नगर निगम परिसर की माता रानी की झांकी देखने पहुंचेंगे। वहीं वाटर कूलरों के लिए लगाए गए नलों को बिना टोंटी के ही छोड़ दिया गया है। जिनसे लगातार पानी बह रहा है। जिम्मेदारों की नजर अब तक नहीं पड़ी है।
------------------
कमजोर पड़ा मानसून, स्थानीय बादलों से आस
शहर में शनिवार को दिनभर उमड़-घुमड़कर बादल मडराते रहे, पर बारिश नहीं हुई। शाम करीब पांच बजे कुछ क्षेत्रों में हल्की बारिश हुई। मौसम विभाग के विशेषज्ञों के अनुसार बंगाल की खाड़ी में बन रहा कम दबाव का चक्रवात कमजोर पड़ गया है। ऐसे में स्थानीय बादलों से बारिश की आस है मौसम विभाग द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार शनिवार को २.६ मिमी बारिश हुई। इसे मिलाकर सीजन में कुल बारिश ८५०.५ मिमी हो चुकी है। जबकि पिछले वर्ष १५ सितम्बर तक १४०९ मिमी बारिश दर्ज की गई थी। शनिवार को शहर का अधिकतम और न्यूनतम तापमान सामान्य से दो डिग्री अधिक क्रमश: ३२.२ और २४.९ डिग्री सेल्सियस रहा। सुबह और शाम की आद्र्रता क्रमश: ८९ और ८२ प्रतिशत रही। मौसम विभाग के वैज्ञानिक सहायक देवेन्द्र तिवारी के अनुसार बारिश का सिस्टम नहीं है। हालांकि कुछ क्षेत्रों में हल्की बारिश हो सकती है।
---------------------
गायत्री परिवार का प्रांतीय युवा क्रांति सम्मेलन, साधकों ने डेढ़ किमी लम्बी मानव शृंखला बनाकर जगाई शराबबंदी की अलख
हल्के बादलों के बीच से छनकर आ रही सूरज की किरणें अपनी आभा बिखेर रही थीं, तभी दद्दा परिसर से गायत्री परिवार के ढाई हजार से अधिक साधक निकले तो शराबबंदी और व्यसन मुक्ति के स्वर चिडि़यों की चहचहाहट की तरह गूंज उठे। वाद्य यंत्रों पर शराब बंदी की राग सुनकर लोग घरों से बाहर आ गए। राहगीरों के पांव थम गए। अवसर था अखिल विश्व गायत्री परिवार के तत्वावधान में आयोजित प्रांतीय युवा क्रांति सम्मेलन के दूसरे दिन बनाई गई डेढ़ किमी लम्बी मानव शृंखला का। इसमें शामिल साधकों ने मध्यप्रदेश में शराबबंदी की अलख जगाई।
अन्य खबरों के लिए देखें न्यूज बुलेटिन-

 

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned