IRCTC news: देश का सबसे खूबसूरत रेलवे स्टेशन, तकनीक के मामले में भी होगा सबसे आगे

IRCTC news: देश का सबसे खूबसूरत रेलवे स्टेशन, तकनीक के मामले में भी होगा सबसे आगे
IRCTC news

Lalit Kumar Kosta | Updated: 11 Sep 2019, 12:15:32 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

खूबसूरती और तकनीक के जंक्शन बनेगा स्टेशन

चार ट्रेनें शुरू करने की तैयारी
जल्द तैयार होगा नया प्लेटफॉर्म, सर्कुलेटिंग एरिया भी बढ़ेगा
कुल लागत- 120 करोड़ रुपए
निर्माण लागत- 50 करोड़ रुपए
इलेक्ट्रिफिकेशन और सिग्नल के साथ अन्य काम- 23 करोड़ रुपए

जबलपुर/ मदन महल स्टेशन से कुछ माह बाद ट्रेनों का संचालन शुरू हो सकता है। हबीबगंज रेलवे स्टेशन की तर्ज पर यहां से चार ट्रेनों का संचालन हो सकेगा। इसके लिए तैयारियां जोरों पर हैं। नया प्लेटफॉर्म बनाने के साथ ही अन्य प्लेटफॉर्म की लम्बाई बढ़ाने का काम किया जा रहा है। जल्द ही यह स्टेशन नए स्वरूप में नजर आएगा। यहां सर्कुलेटिंग एरिया भी आधुनिक तरीके से तैयार किया जाएगा।

तीन की जगह चार प्लेटफॉर्म
मदन महल स्टेशन पर तीन प्लेटफॉर्म हैं। यहां एक और प्लेटफॉर्म बनाया जा रहा है। प्लेटफॉर्म क्रमांक एक की तरफ इसका निर्माण चल रहा है। इटारसी छोर पर नाले की ओर बेस बनाकर प्लेटफॉर्म की लम्बाई बढ़ाई जा रही है। यहां प्लेटफॉर्म तैयार होने में कुछ समय बाकी है। इसके बाद यहां ट्रैक डालने और ओएच लाइन डालने के साथ ही सिग्नल का काम किया जाएगा।

 

madan_mahal_01.jpg

अभी यह हालात
कुल प्लेटफॉर्म की संख्या:- 03
ट्रेने रुकती हैं:- प्लेटफॉर्म क्रमांक एक और तीन

फिर यह होगा
कुल प्लेटफॉर्म की संख्या:- 04
ट्रेनों का संचालन होगा:- सभी प्लेटफॉर्म से
यह भी होगा खास- ट्रेनों को शुरू और टर्मिनेट भी किया जाएगा।

एक नजर में
- चार लोकेशन पर ट्रेनें रुक सकेंगीं।
- प्लेटफॉर्म एक पर लूप लाइन बनेगी।
- प्लेटफॉर्म एक भी पूरी तरह शेड से हो रहा है कवर।
- टर्मिनल बिल्डिंग को भी मिलेगा नया आकार
- सर्कुलेटिंग एरिया भी हो जाएगा व्यवस्थित

IRCTC news

हटेंगें क्वार्टर और आरपीएफ बैरक
नए प्लेटफॉर्म और सर्कुलेटिंग एरिया का विस्तार करने के लिए जल्द ही मदन महल स्टेशन पर बने रेलवे क्वार्टरों को तोडऩे का काम किया जाएगा। इसके लिए प्रस्ताव तैयार कर भेज दिया गया है। वहां रहने वाले कर्मियों को नए क्वार्टर आवंटित होने के बाद उन्हें तोडऩे की प्रक्रिया की जाएगी। इसके अलावा इसी प्लेटफॉर्म पर बने आरपीएफ के बैरक को भी तोड़ा जाएगा। जिससे प्लेटफॉर्म को लुक प्रदान किया जा सके। नई लाइन को लूप लाइन कहा जाएगा।

बढ़ाई जा रही लंबाई, लगाया गया शेड
प्लेटफॉर्म क्रमांक दो से ट्रेनों का संचालन निर्बाध रूप से हो, इसलिए कटनी और इटारसी छोर पर इसकी लंबाई बढ़ाने का काम शुरू कर दिया गया है। यहां दोनों तरफ फ्लोरिंग कर दी गई है। जिसके बाद इसमें मिट्टी की पुराई की प्रक्रिया शुरू हो गई है। दोनों ओर यह काम किया जा रहा है। ऐसा माना जा रहा है दो से ढ़ाई माह में यह प्लेटफॉर्म पूरी तरह तैयार हो जाएगा। पहले प्लेटफॉर्म क्रमांक तीन के आधे हिस्से में शेड हुआ करता था। ऐसे में बारिश या गर्मी में यात्रियों को परेशानी झेलनी पड़ती थी। लेकिन रीडेव्लपमेंट के तहत इस पूरे प्लेटफॉर्म पर शेड लगा दिया गया है।

- मदन महल स्टेशन का काम तेजी से चल रहा है। नया प्लेटफॉर्म जल्द तैयार हो जाएगा। इसके बाद चार टे्रनों का यहां से एक साथ संचालन हो सकता है। टर्मिनल बिल्डिंग के साथ सर्कुलेटिंग एरिया भी बढ़ाया जा रहा है।
- मनोज सिंह, डीआरएम, जबलपुर रेल मंडल

 

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned