ISBT से महाराजपुर तक आकार लेगी नई सड़क, योजना टीडीएस-3 को शासन ने दी स्वीकृति

ISBT से महाराजपुर तक आकार लेगी नई सड़क, योजना टीडीएस-3 को शासन ने दी स्वीकृति

By: Lalit kostha

Published: 20 May 2021, 05:42 PM IST

जबलपुर/ अधारताल, महाराजपुर, सुहागी छोर के लोगों के पास फिलहाल मौजूदा मार्ग के अलावा कोई वैकल्पिक मार्ग नहीं है। अब इन इलाकों को शहर से जोडऩे के लिए आइएसबीटी से महाराजपुर के बीच चौड़ी एआरपी 4 सडक़ बनेगी। ये सडक़ एमआर 4 सडक़ का एक्सटेंशन होगी। इससे सडक़ के दोनों ओर कुदवारी, गुरदा गांव में तेजी से विकास हो सकेगा। प्रदेश शासन ने जेडीए की योजना टीडीएस 3 को स्वीकृति दे दी है। ये पूर्व की योजना 69 ही है जो पूर्व में खटाई में पड़ गई थी। शहर के लिए एआरपी 4 की आवश्यकता को देखते हुए प्राधिकरण ने योजना के पुननिर्धारण को स्वीकृति देने का प्रस्ताव प्रदेश शासन को भेजा था, जिसे स्वीकृति मिल गई है।

योजना टीडीएस-3
-79 हेक्टेयर कुल रकबा
-4 महीने के बाद लेआउट बनेगा
-1 साल में शुरू होगा निर्माण कार्य
-5 साल में पूरी करनी होगी योजना
-50 प्रतिशत जमीन मुआवजा के तौर पर वापस मिलेगी किसान को
-16 हेक्टेयर में रोड नेटवर्क व अन्य सुविधा विकसित होंगी
-16 हेक्टेयर में रिहायशी व कमर्शियल विकास करेगा जेडीए


किसान को मुआवजे में मिलेगी आधी जमीन
शासन के नए नियम के अनुसार जेडीए की योजना टीडीएस 3 में किसान को मुआवजे के तौर पर आधी यानी 50 प्रतिशत जमीन मिलेगी। इस जमीन पर वे स्वयं विकास कार्य कर सकें गे। प्राधिकरण उन्हें पहुंच मार्ग उपलब्ध कराएगा। सोलह हेक्टेयर में रोड नेटवर्क विकसित किया जाएगा। सोलह हेक्टेयर के लगभग जमीन जेडीए को विकास के लिए प्लाट उपलब्ध होंगे। इनमें रहवासी व कमर्शियल विकास किया जाएगा। इस योजना में प्राधिकरण को सभी विकास कार्य पांच साल में पूरे करने होंगे।
शहर को मिलेगा विस्तार
टीडीएस 3 के तहत विकास कार्य होने पर शहर का तेजी से विस्तार होगा। अभी तक कुदवारी, गुरदा क्षेत्र व्यवस्थित सडक़ नेटवर्क नहीं होने के कारण विकास से अछूते थे। लेकिन अब इन क्षेत्रों में भी तेजी से विकास कार्य होगा। इससे शहरवासियों की आवासीय जरूरत तो पूरी होंगी ही, नए व्यवस्थित बाजार भी विकसित होंगे।

एआरपी 4 सडक़ के निर्माण से दमोहनाका-अधारताल मार्ग पर यातायात का दबाव कम होगा। इसके साथ ही इस सडक़ के निर्माण से दोनों ओर से तेजी विकास होगा। इस सडक़ का निर्माण योजना टीडीएस 3 में होना है। जिसे शासन ने स्वीकृति दे दी है।
प्रशांत श्रीवास्तव, सीइओ, जेडीए

Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned