scriptJabalpur city will again be submerged in rainwater, danger of open dra | drainage system: बारिश में फिर डूबेगा जबलपुर शहर, खुले नालों में मौत का खतरा | Patrika News

drainage system: बारिश में फिर डूबेगा जबलपुर शहर, खुले नालों में मौत का खतरा

बारिश में फिर डूबेगा जबलपुर शहर, खुले नालों में मौत का खतरा

 

जबलपुर

Published: May 20, 2022 10:28:52 am

जबलपुर। शहर के ड्रेनेज सिस्टम की मुख्य आर्टरी कहे जाने वाले ओमती-मोती नाला से लेकर खंदारी, उर्दना, शाह नाला संकरे कर दिए गए हैं। ड्रेनेज सिस्टम सुधारने के नाम पर स्टार्म वाटर ड्रेनेज सिस्टम प्रोजेक्ट के तहत चार सौ करोड़ रुपए से ज्यादा की राशि खर्च हो गई है। इसके बावजूद नगर के कई इलाकों को बाढ़ और डूब का खतरा बरकरार है। इतना ही नहीं कई नालों के मुहाने ऐसे खुले छोड़ दिए गए हैं उनमें वाहन समा जाए।

drainage system
drainage system

सडक़ों के किनारे खतरनाक स्थिति : व्यवस्था नहीं सुधरी तो कई इलाके डूबेंगे
करोड़ों खर्च के बाद भी नालों के खुले हैं मुहाने, हादसों का मंडरा रहा खतरा!

शहर के बीचोंबीच फ्लाईओवर व स्मार्ट सिटी के निर्माण कार्य जारी होने के कारण कई इलाकों का ड्रेनेज सिस्टम चौपट हो गया है। वहां जल भराव हो रहा है। मानसून सीजन शुरू होने को 25 दिन शेष हैं। इसके बावजूद अब तक वर्षा जल निकासी व्यवस्था को लेकर नगर निगम प्रशासन ने कोई एक्शन प्लान नहीं बनाया है। इसे लेकर कोई बैठक भी नहीं की गई।

nala.jpg

ये खुले मुहाने खतरनाक
यातायात थाना से लेकर चंचल बाई कॉलेज मार्ग, मदनमहल चौराहा से एलआईसी मार्ग, रानीताल से बल्देवबाग मार्ग, गोल बाजार इलाके में कई स्थान पर नालों के मुहाने खुले हैं। उनके कारण दुर्घटना का खतरा बढ़ गया है। तेज बरसात होने पर कई बार राहगीरों को नालों के ये मुहाने समझ में नहीं आते, इसके कारण पिछले वर्षों में कई दुर्घटना हो चुकी हैं।

- 401.47 करोड़ स्टार्म वाटर ड्रेनेज सिस्टम पर खर्च
- 05 मुख्य नाले पक्के किए गए
- 128 बड़े नालों पर राशि खर्च
- 133 नालों बनाए गए
- 225.86 किमी ड्रेनेज दुरुस्ती का था दावा

पांच मुख्य नाले जो संकरे हो गए
ओमती, मोती, ख्ंदारी, उर्दना, शाह नाला


इस प्रकार हुआ निर्माण
- 88.06 किमी. आरसीसी पाइप ड्रेन
- 73 किमी. आरसी रेक्टेंग्यूलर कवर ड्रेन
- 64 किमी.ट्रेपाज्वायडल स्टोन मेशनरी ड्रेन


नाले-नालियों की सफाई शुरू करा दी है। ड्रेनेज सिस्टम में जो भी खामियां हैं उन्हें दूर किया जाएगा, जिससे कहीं भी जलभराव न हो।
- भूपेन्द्र सिंह, स्वास्थ्य अधिकारी, नगर निगम

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Mumbai News Live Updates: कल देवेंद्र फडणवीस सीएम और एकनाथ शिंदे डिप्टी सीएम पद की लेंगे शपथMaharashtra Political Crisis: महाराष्ट्र में नई सरकार को लेकर हलचल तेज, मंत्रालयों के बंटवारे को लेकर एकनाथ शिंदे ने दिया ये बड़ा बयानDelhi MLA Salary Hike: दिल्ली के 70 विधायकों को जल्द मिलेगी 90 हजार रुपए सैलरी, जानिए अभी कितना और कैसे मिलता है वेतनउदयपुर हत्याकांड: आरोपियों के कराची कनेक्शन पर पाकिस्तान की बेशर्मी, जानिए क्या बोलाUdaipur Murder: उदयपुर में हिंदू संगठनों का जोरदार प्रदर्शन, हत्यारों को फांसी दो के लगे नारेजम्मू-कश्मीर: बालटाल से अमरनाथ यात्रा के लिए श्रद्धालुओं का पहला जत्था रवाना, पवित्र गुफा में बाबा बर्फानी का करेंगे दर्शनपटना के हथुआ मार्केट में लगी भीषण आग, कई दुकानें जलकर खाक, करोड़ों का नुकसानMaharashtra Political Crisis: उद्धव के इस्तीफे के बाद भी संजय राउत के हौसले बुलंद, बोले-हम अपने दम पर फिर सत्ता में करेंगे वापसी
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.