बड़ी खबर: जबलपुर में एक दो दिन में खुलेगा बाजार! नई व्यवस्था में होगी खरीदी

बड़ी खबर: जबलपुर में एक दो दिन में खुलेगा बाजार! नई व्यवस्था में होगी खरीदी

 

By: Lalit kostha

Updated: 28 May 2020, 12:56 PM IST

जबलपुर। जिले में भी जल्द ही भोपाल की तर्ज पर आर्थिक गतिविधयां शुरू हो सकती हैं। इसके लिए स्थानीय प्रशासन ने बुधवार को प्रदेश शासन को एक प्रस्ताव भेजा है। इसमें ऑड-ईवन फॉर्मूले को आधार बनाते हुए व्यापार, बाजार सहित अन्य गतिविधियां शुरू करने की जानकारी दी गई है। कंटेनमेंट और बफर जोन के वार्डों में ये सुविधा नहीं दी जाएंगी। माना जा रहा है कि एक-दो दिन में प्रस्ताव को मंजूरी मिल सकती है।

जिला प्रशासन की नई व्यवस्था एक-दो दिन में हो सकती है लागू
कंटेनमेंट एरिया में नहीं मिलेगी छूट
भोपाल की तरह जबलपुर में भी खुलेंगे बाजार, भेजा प्रस्ताव

कोरोना वायरस के संक्रमण के कारण जिले में 20 मार्च से लॉक डाउन लागू होने के बाद से अब तक कई प्रतिबंध जारी रहे। लॉकडाउन-4 में भी जबलपुर का नगर निगम सीमा क्षेत्र रेड जोन में शामिल है। इससे यहां बाजार नहीं खुले। केवल गली-मोहल्लों और कॉलोनियों की दुकानों को खोलने की अनुमति दी गई। बाजार आज भी बंद हैं। कुछ वस्तुओं को होम डिलेवरी की अनुमति दी गई है।

 

Crowd in the market, force came out in the evening
IMAGE CREDIT: Manoj dewangan

सीमित समय के लिए खुलेगा बाजार
प्रशासन ने बाजार खोलने के लिए प्रदेश शासन को जो प्रस्ताव भेजा है, उसमें समय भी तय किया गया है। यह सुबह 10 से शाम 5 बजे तक हो सकता है। इसमें भी कंटेनमेंट और बफर जोन के वार्डों के बाजारों पर प्रतिबंध रह सकता है।

दुकानों पर लिखा नम्बर
शहरी क्षेत्र के बाजारों को खोलने के लिए पूर्व में तय ऑड-ईवन फॉर्मूला अपनाया जाएगा। इसके लिए दुकानों के शटर और दीवार पर नम्बर लिखे गए हैं। जिन दुकानों के नम्बर सम (ईवन) हैं, उन्हें उसी तारीख के हिसाब से खोलने की अनुमति मिल सकती है। इसी तरह विषम (ऑड) संख्या वाली दुकानें उसी संख्या की तारीख जो कि आखिरी अंक हो सकता है, खोलने की अनुमति मिले।

 

Most business activities started, the influx of people in the market ...
IMAGE CREDIT: Manoj Dewangan

व्यापारिक संगठन भी कर रहे मांग
व्यापारिक संगठन भी बाजार खोलने की मांग कर रहे हैं। उनका कहना है कि कम से कम उन जगहों के बाजार खोल दिए जाएं, जहां कोरोना संक्रमित नहीं मिले हैं। इस सम्बंध में महाकोशल चेम्बर ऑफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री, थोक वस्त्र विक्रेता संघ, सराफा एसोसिएशन आदि संगठन कलेक्टर से मिल चुके हैं।

इन्हेंं मिली है अनुमति
वर्तमान में जिन दुकानों को खोलने की अनुमति मिली है, उनमें चश्मा, पानी, त्रिपाल, मेडिकल उपकरण, नवजात शिशु तथा गर्भवती महिलाओं से सम्बंधित सामग्री, गली-मोहल्लों में सभी वस्तुओं की स्टैंड अलोन दुकानें, राशन, सब्जी, दूध, मांस-मछली, अंडे, फ ल, मेडिकल स्टोर, होम डिलेवरी के तहत इलेक्ट्रॉनिक्स दुकान, ऑटो मोबाइल आदि शामिल हैं।

इन पर रह सकता है प्रतिबंध
शॉपिंग मॉल, सिनेमाघर, स्वीमिंग पूल, जिम्नेजियम, कोचिंग, प्रशिक्षण संस्थान, रेस्टॉरेंट, मनोरंजन पार्क, थिएटर, बार, ऑडिटोरियम, सामाजिक, धार्मिक और खेलकूद सम्बंधी आयोजन आदि।


बाजार की दुकानों को खोलने के लिए शासन से पत्र के माध्यम से अनुमति मांगी है। दुकानें ऑड-ईवन तहत खोलने का प्रस्ताव है। कंटेनमेंट जोन और उससे लगे वार्डों में पहले की तरह प्रतिबंध लागू रहेंगे।
- भरत यादव, कलेक्टर

Show More
Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned