Fake Remadecivir Injection Case में सिटी हास्पिटल के संचालक की पत्नी जसमीत मोखा को जेल

-एडमिनिस्ट्रेटर सोनिया खत्री भी भेजी गईं कारागार

By: Ajay Chaturvedi

Updated: 21 May 2021, 11:10 AM IST

जबलपुर. Fake Remadecivir Injection Case में पहले से ही एनएसए के तहत जेल में बंद सिटी हॉस्पिटल के मालिक सरबजीत सिंह मोखा के बाद अब सरबजीत की पत्नी जसमीत मोखा और एडमिनिस्ट्रेटर सोनिया खत्री को भी गुरुवार को जेल भेज दिया गया। अब पुलिस को केवल सरबजीत के बेटे हरकरण की तलाश है जो अभी लापता बताया जा रहा है।

जसप्रीत मोखा, सोनिया को जेल

बता दें कि नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन के खेल में स्थानीय पुलिस इन दोनों के शामिल होने की बात कहती रही है। साथ ही एसआईटी ने भी कहा था कि इस काले गोरखधंधे में सरबजीत का पूरा परिवार शामिल था। साथ ही सिटी हॉस्पिटल की एडमिनिस्ट्रेटर सोनिया खत्री को भी इस परे कालेकारनामें में बराबर का सहभागी माना गया था।

ये भी पढें- Fake Remadecivir Injection Case में जबलपुर पुलिस को मिली बड़ी सफलता

चाहे मोखा के घर से नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन के वॉयल को तोड़ कर नाले में बहाने का मामला हो या अस्पताल के दस्तावेजों से छेड़छाड़ का मामला रहा हो, इन दोनों की सहभागिता के साक्ष्य भी पुलिस व एसआईटी को मिले थे। इसके बाद से ही यह तय माना जा रहा था कि देर-सबेर इन दोनों का जेल जाना तय है।

ये भी पढें- धीरे-धीरे कसने लगा Fake Remadecivir Injection Case में फंसे मोखा पर शिकंजा

गुजरात पुलिस द्वारा सपन जैन फिर सरबजीत की गिरफ्तारी के बाद नकली रेमडेसिविर इंजेक्शन से जुड़े साक्ष्य मिटाने में भी इनकी बड़ी भूमिका रही। पुलिस ने जसमीत और सोनिया के पास से रेमडेसिविर इंजेक्शन एक-एक वॉयल भी जप्त कर लिया था। हालांकि पुलिस ने सिटी हॉस्पिटलकर्मी देवेश चैरसिया के कब्जे से रेमडेसिविर इंजेक्शन के 2 वॉइल जप्त की थी।

Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned