लॉकडाउन के दौरान बच्चों की ऑनलाइन क्लासेज के दौरान इन बातों का रखें ध्यान

लॉकडाउन के दौरान बच्चों की ऑनलाइन क्लासेज के दौरान इन बातों का रखें ध्यान

By: abhishek dixit

Published: 15 May 2020, 12:12 PM IST

जबलपुर. लॉकडाउन के इस समय ने लोगों को ऑनलाइन कर दिया है। इसके चलते जहां बच्चों की क्लासेज ऑनलाइन हो चुकी हैं, वहीं उनके प्रोजेक्ट भी ऑनलाइन चल रहे हैं। यूं तो बच्चों की स्टडी पैरेंट्स द्वारा हमेशा करवाई जाती है, लेकिन लॉकडाउन के दौरान चल रही क्लासेस को पैरेंट्स भी अटेंड कर बच्चों के लिए चीजों को सीख रहे हैं। इसमें सबसे ज्यादा जिम्मेदारी मॉम्स की बढ़ चुकी है। उनके लिए काम दोगुना हो गया है। क्योंकि घर की जिम्मेदारी के साथ-साथ बच्चों के एजुकेशन पैटर्न को समझकर काम करना आसान नहीं है।

बच्चों के लिए भी नया है
एजुकेशन के दौर में लगातार परिवर्तन आए हैं। ऐसे में ऑनलाइन क्लास अटैंड करना बच्चों के लिए भी थोड़ा चुनौतीपूर्ण रहा है। ये बेहतर बात है कि वर्तमान में अधिकांश माएं लैपटॉप और मोबाइल यूजिंग फ्रेंडली है, जिससे बच्चों के लिए जारी किए गए स्कूल के निर्देश और टीचर्स की गाइडलाइन फॉलो करने में उन्हें दिक्कतों का सामना नहीं करना पड़ता।

क्लासेस ऑनलाइन
लॉकडाउन के कारण बच्चों की क्लासेस ऑनलाइन चल रही है। ऐसे में उन्हें प्रोजेक्ट और होमवर्क भी ऑनलाइन ही मिल रहे हैं। प्राजक्ता विप्रदास कहती हैं कि लॉकडॉउन के अवधि में जब बच्चों की पढ़ाई प्रभावित हो रही है। तब ऑनलाइन कोर्स के माध्यम से साथ ही साथ नए शिक्षण सत्र व मनोरंजन के साथ तालमेल बैठाकर बच्चो पर ध्यान देना एक मां की महत्वपूर्ण जिम्मेदारी हो जाती है।

abhishek dixit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned