असलहा दिखा कर युवक का अपहरण

-ससुराल आया था युवक
-बरगी पुलिस ने चरगांवा पुलिस की मदद से अपहर्ताओं को किया गिरफ्तार

By: Ajay Chaturvedi

Published: 24 Aug 2021, 05:07 PM IST

जबलपुर. असलहा दिखा कर एक युवक का अपहरण करने का मामला प्रकाश में आया है। जानकारी के मुताबिक युवक ससुराल आया था। बीती देर रात तीन बदमाश बाइक से आए और युवक का अपहरण कर लिया।

बरगी टीआई रीतेश पांडेय का कहना है कि घुरवाड़ा सिवनी निवासी अहिल्या झारिया का जबलपुर के बरगी स्थित गोकलपुर में मायका है। रक्षाबंधन पर वह पति राजेश झारिया (29) के साथ मायके आई थी। सोमवार की रात खाना खाने के बाद वह पति के साथ छत पर सो रही थी कि रात करीब 10.30 बजे गोकुलपुर निवासी साधूराम उर्फ सत्तू काछी (34वर्ष), गोटेगांव, टिकरी निवासी नीरज पटेल (26वर्ष) और टीला मोहल्ला नरसिंहपुर ख्याल सिंह (51वर्ष), छत पर पहुंच गए। साधूराम ने अहिल्या से उसके पति के बारे में पूछा तो पत्नि ने पास में सो रहे पति को दिखा दिया। इसके बाद नीरज व ख्याल सिंह ने राजेश के बदन से असलहा सटा कर उसे जगा दिया।

सोते से जागने के बाद तीन लोगों को असलहा के साथ देख कर वह उनसे बचने के लिए छत से कूद गया। लेकिन आरोपियों ने तब भी उसका पीछा नहीं छोड़ा और वो भी एक-एक कर नीचे कूद पड़े। नीचे पहुंच कर तीनों ने मिलकर राजेश को जकड़ लिया। यह सब देख अहिल्या ने शोर मचाया तो उसकी बहन कौशल्या झारिया और पिता मिजाजीलाल झारिया घर से बाहर निकले। लेकिन तब तक तीनों आरोपी राजेश को जबरन बाइक पर बिठा चुके थे। अहिल्या के मुताबिक उसके पिता व बहन के आरोपियों से राजेश को छोड़ने की मिन्नतें करते रहे, लेकिन वे नहीं पिघले और असलहा दिखाते हुए पति को बाइक पर बीच पर बिठाकर भाग चले।

इसके बाद अहिल्या ने डॉयल 100 पर फोन कर पुलिस को घटना की जानकारी दी। अहिल्या की बात सुन कर पुलिस के होश भी उड़ गए। लेकिन अगले ही क्षण पुलिस वालों ने उच्चाधिकारियों को घटना की सूचना दी जिस पर जिले भर की पुलिस सक्रिय हो गई। एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा, एएसपी शिवेश सिंह बघेल, सीएसपी बरगी अशोक तिवारी व टीआई रितेश पांडेय सभी हरकत में आ गए। आसपास के इलाकों के थानों ( तिलवारा और चरगवां थाना) को भी सूचित किया गया। चरगवां थाना प्रभारी विनोद पाठक मय फोर्स आरोपियों की तलाश में जुट गए।

इस बीच घटनास्थल से करीब 25 किलोमीटर दूर चरगवां थाना क्षेत्र पहुंचते-पहुंचते राजेश का अपहरण कर ले जा रहे बदमाशों की बाइक का पेट्रोल खत्म हो गया। ऐसे में वो पैदल ही नरसिंहपुर की ओर जा रहे थे तभी पुलिस पहुंच गई। पुलिस ने तीनों बदमाशों को पकड़ लिया और अपहृत राजेश को उनके कब्जे से मुक्त कराया। साथ ही अपहरण की घटना में प्रयुक्त बाइक को जब्त कर लिया। पुलिस ने आरोपी की तलाशी ली जिसमें उनके पास से कट्‌टा व चार कारतूस बरामद हुए। उसे भी पुलिस ने जब्त कर लिया और आरोपियों को बरगी थाने ले गए।

आरोपियों से पूछताछ में पता चला कि उन तीनों से राजेश ने पांच लाख रुपए उधार लिए थे। पर वह लौटा नहीं रहा था। राजेश ने उनका फोन रिसीव करना भी बंद कर दिया था। ऐेस में आरोपी कई बार उसके घर भी गए, लेकिन वह नहीं मिला। ऐसे में उन्हें जैसे पता चला कि राजेश ससुराल आया है, वे उसका अपहरण करने पहुंच गए। आरोपी राजेश को अगवा कर नरसिंहपुर गोटेगांव ले जाना चाहते थे। उनकी मंशा थी कि वो फिरौती के तौर पर अपने बकाया पांच लाख रुपए की मांग करेंगे।

उधर बरगी पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ अपहरण, आर्म्स एक्ट, एससी-एसटी एक्ट सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया। साथ ही पूरे मामले की जांच शुरू कर दी।

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned