श्रीकृष्ण जन्मोत्सव 2018: आधी रात में दमक उठे मंदिर, झूम उठे भक्त, देखिए लाइव

हर तरफ रहा अनूठा नजारा

By: Premshankar Tiwari

Updated: 04 Sep 2018, 08:52 AM IST

जबलपुर। प्यारा कान्हा आया है, पार लगाने आया है...। हाथी घोड़ा पालकी, जय कन्हैया लाल की...। जय हो गोपाल की, जय हो नंदलाल की...। जैसे जयघोष सोमवार संस्कारधानी के हर गली-मोहल्ले में सुनाई दिए। जन्माष्टमी पर कान्हा का प्राकट्योत्सव धूमधाम से मनाया गया। दुल्हन की तरह सजे मंदिरों की तो छटा ही अलग थी। श्रीकृष्ण मंदिर गोरखपुर में रात्रि 12 बजे ही बधाई गीत गूंज उठे। कदम थिरक उठे और हर भक्त कान्हा के ही रंग में रंग गया। जन्मोत्सव का यह रंग कई जगह तो भोर होने तक बरकरार रहा।

पालनहार की झांकी
जन्माष्टमी के अवसर पर प्रमुख मंदिरों में सुबह से देर रात तक भक्तों ने दर्शन पूजन किया। मंदिरों में अनुष्ठान कर भगवान 56 भोग अर्पित किया गया। श्रीकृष्ण मंदिर गोरखपुर में भगवान की आकर्षक झांकी सजाई गई थी। प्रवचन और भजन कीर्तन के बीच भक्तों का सैलाब उमड़ा था। घड़ी की सुई को 12 के निशान पर पहुंचने से पहले पुजारी ने घंटी बजाई और वैदिक मंत्रोच्चार के बीच सबकी निगाहे की मंदिर की ओर टिक गई। पुष्पवर्षा शुरू होते हुए भजन कीर्तन करते हुए लोग झूम उठे। लम्बी कतारों में लगकर लोगों ने प्रसाद ग्रहण किया।

लघु काशी में मेला
लघु काशी मंदिर पचमठा में मेला लगा था। भक्तों ने पूजन अर्चन किया और बच्चों ने झूले का आनंद लिया। देर रात तक रंग बिरंगी रोशनी के बीच झूलों की सीट पर बैठने वालों का तांता लगा रहा। अद्र्धरात्रि में बांके बिहारी अवतरित हुए तो पुरुष और मातृशक्ति ने लम्बी कतारों में लगकर दर्शन किया। लम्हेटा रोड स्थित इस्कॉन मंदिर में वृंदावन से मंगाए गए श्रृंगार से भगवान की झांकी सजाई गई थी। भगवान को 256 भोग अर्पित किया। जन्मोत्सव के बाद भोर तक श्रद्धालुओं ने दर्शन-आरती की। राधे कृष्णा मंदिर रांझी, श्री राम मंदिर मदन महल, श्री कृष्ण मंदिर छोटी ओमती, नरसिंह मंदिर शास्त्री ब्रिज, राधे कृष्ण मंदिर गढ़ा, गोपाल लाल मंदिर बाई का बागीचा, गोपाल लाल मंदिर हनुमानताल, हरे कृष्णा आश्रम भेड़ाघाट में जन्मोत्सव मनाया गया।

राम मंदिर में कान्हा की जयकार
जबलपुर। राम मंदिर त्रिमूर्ति नगर में भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया। अनुष्ठानों का क्रम सुबह से ही चलता रहा। शाम को महिला मंडल ने भजनों की प्रस्तुति दी। गोपियां झूमकर नाचीं। मध्य रात्रि पर यहां कान्हा के जयकारे गूंज उठे। श्रद्धालुओं को गुड़ के लड्डू बांटकर कन्हैया के जन्म की बधाई दी गई। पुजारी पं. अरुण तिवारी ने अनुष्ठान पूर्ण कराए। इस अवसर पर महिला मंडल की ऊषा मिश्रा, शीला पांडेय, प्रीति गर्ग, सविता चौरसिया, गायत्री तिवारी, सुमन शर्मा समेत भारी संख्या में श्रद्धालु उपस्थित रहे। श्रीराम जानकी मंदिर शांति नगर में भगवान योगेश्वर भगवान श्रीकृष्ण का जन्मोत्सव धूमधाम से मनाया गया।

घर-घर में विराजित हुए कन्हैया
श्रीकृष्ण जन्माष्टमी को व्रत रहकर लोगों ने उपासना की। लोगों ने घर में मंदिरों में भगवान की प्रतिमा स्थापित कर श्रृंगार किया। शहर के बड़े फुहारा, छोटीलाइन फाटक, गोरखपुर, मदन महल, छोटी ओमती एवं हनुमानताल में फूल व पूजन सामग्री की दुकानों पर दिन भर खरीदारों की भीड़ दिखी। वहीं भगवान को भोग लगाने को फलों की बिक्री भी खूब हुई। हर तरफ उत्सव का माहौल रहा।

Show More
Premshankar Tiwari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned