बाढ़ नियंत्रण कार्यालय में खुलेआम जुआं खेल रहे जिम्मेदार, देखिए स्टिंग वीडियो में पूरी हकीकत

बाढ़ नियंत्रण कार्यालय में खुलेआम जुआं खेल रहे जिम्मेदार, देखिए स्टिंग वीडियो में पूरी हकीकत
ग्वारीघाट के आपदा प्रबंधन यूनिट में तैनात होमगार्ड, नाव ठेकेदार सहित व्यापारी खेल रहे जुआ

Manoj Verma | Updated: 20 Jun 2019, 01:00:18 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

ग्वारीघाट के आपदा प्रबंधन यूनिट में तैनात होमगार्ड, नाव ठेकेदार सहित व्यापारी खेल रहे जुआ

जबलपुर। नर्मदा तट ग्वारीघाट के आपदा प्रबंधन कक्ष में सुबह से लेकर रात तक जुआ फड़ बैठ रही है। इस फड़ में क्षेत्रीय लोगों सहित नाव ठेकेदार सहित होमगार्ड के जवान बैठ रहे हैं। एक्सपोज स्टिंग में सामने आया है कि यहां रेस्क्यू टीम का नाव चलाने वाला गायब रहता है। तट पर ड्यूटी करने वाला जवान फड़ पर लोगों की फर्माइश पूरी करता है। सेंटर के तखत पर ताश पर दांव लगाए जाते हैं। ग्वारीघाट के रेस्क्यू कक्ष की हकीकत बयां करती एक्सपोज की रिपोर्ट...।
ग्वारीघाट नर्मदा तट के पुराने पुल के समीप होमगार्ड का रेस्क्यू सेंटर बना है। इस कक्ष में आपदा से निपटने के लिए लाइफ जैकेट और अन्य सामग्री रखी हुई है। कक्ष में एक तखत और चंद बेंस आदि हैं। विषम स्थिति से निपटने के लिए यहां तैराक के रूप में होमगार्ड के दो जवानों को तैनात किया गया है। इसमें से एक जवान नाव चलाने में एक्सर्ट है। कक्ष में पानी फेंकने के लिए एक मशीन भी है, जिसे जरूरत पडऩे पर इस्तेमाल किया जाता है।

ये थी हकीकत
ग्वारीघाट के किनारे दरोगाघाट के समीप बने इस सेंटर में दरवाजा लटकाने के साथ ही यहां तखत पर चार लोग बैठे हुए थे। इन चारों में कथित तिवारी भोजनालय का मालिक, नाव ठेकेदार सहित अन्य दो व्यक्ति थे। ये चारों ताश खेल रहे थे। जीत-हार कागज पर लिखी जा रही थी। इस दौरान होमगार्ड को जवान खिलाडि़यों के लिए चाय की व्यवस्था कर रहा था। एक्सपोज रिपोर्टर ने जब कक्ष में प्रवेश किया तो वहां ताश का खेल रोक दिया गया और सवाल-जवाब किए जाने लगे। रिपोर्टर ने जब अखबार से होना बताया तो उनका कहना था कि...
रेस्क्यू सेंटर में आप लोग जुआ खेल रहे हो?
अरे, हम जुआ कहां, पच्चीसा खेल रहे हैं।
तो क्या पच्चीसा जुआ नहीं होता है?
अरे, कहां का जुआ, ये तो समय पास हो रहा है।
(तभी बीच में नाव ठेकेदार का कहना था कि पच्चीसा नहीं खेले तो और क्या करेंगे।)
लेकिन पहले भी यहां जुआ खेलने की शिकायत विभाग को मिली थी?
वो पहले और कोई लोग होंगे हम तो जुआ नहीं पच्चीसा खेल रहे हैं।
होमगार्ड के यहां कितने लोग हैं?
दो लोग हैं।
लेकिन यहां तो आप ही हो, दूसरा कहां है?
दूसरा अभी घर खाना खाने गया है।
तो क्या दो लोग यहां के लिए पर्याप्त हैं?
नहीं, नाव चलाने के लिए एक व्यक्ति और होना चाहिए।
तो वो भी यहां जुआ खेलने लगेगा?
नहीं, हम जुआ नहंी, पच्चीसा खेल रहे हैं।

ग्वारीघाट के रेस्क्यू सेंटर में जुआ आदि की खबर नहीं मिली है लेकिन इसे मैं खुद देखूंगी और सख्त कार्रवाई करूंगी।
प्रीति तिवारी, थाना प्रभारी, ग्वारीघाट

ग्वारीघाट के रेस्क्यू सेंटर में जुआ खेलने की शिकायत नहीं आई है लेकिन इस मामले में गंभीरता से कार्रवाई की जाएगी। औचक रूप से जांच होगी।
रोहिताश पाठक, डिविजनल कमांडेन्ट

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned