lesbian love: दो लड़कियों ने आपस में की शादी, गांव में हड़कम्प

कटनी जिले के गांव की घटना, साथ-साथ पढ़ीं और वयस्क हैं दोनों लड़कियां, माता-पिता करते हैं मजदूरी

By: Premshankar Tiwari

Published: 04 Feb 2018, 06:05 AM IST

कटनी। जिले की बरही तहसील के करेला गांव में शुक्रवार को ऐसी घटना सामने आई जो सभी को कड़वी यानी कड़वी लग रही है। दरअसर यहां दो लड़कियों ने आपस में शादी कर ली। मजदूरी पेशा परिवार की दो लड़कियों द्वारा उठाए गए कदम से लोग हैरान हैं। उनका कदम किसी के गले नहीं उतर रहा है। कोई इसे फिल्मों का असर तो कोई सीरियल और बदलते वक्त का नतीजा मान रहा है। ग्रामीणों के अनुसार क्षेत्र में दो लड़कियों द्वारा आपस में शादी किए जाने का यह पहला मामला है।

एक ने सलवार, दूजी ने पहना जींस
कटनी स्थित महिला थाने में भी दोनों लड़कियां कौतूहल का विषय बनी रहीं। दोनों वयस्क हैं। लड़कियों में एक बकायदा जींस और टी शर्ट पहने हुई थी। दूसरी सलवार शूट में थी। देखने में ही समझ में आ रहा था कि जींस-टीशर्ट वाली लड़की पति और दूसरी पत्नी के वेश में है। बच्चियों द्वारा उठाए गए कदम से हैरान उनके परिजन भी थाने पहुंच गए। उन्हें समझाने का प्रयास किया, लेकिन वे कुछ भी समझने को तैयार नहीं नजर आ रही थीं।

गांव में की है शादी
बताया गया है कि दोनों लड़कियों शुक्रवार को आपस में विवाह किया। एक ने बकायदा दूसरी के नाम की मांग भर ली। शनिवार को दोनों लड़कियां गांव के सरपंच के पास पहुंचीं और उन्हें पूरी बात बतायी। सरपंच उन्हें लेकर पहले बरही थाने पहुंचे और फिर वहां से उन्हें कटनी महिला थाने भेज दिया गया। दोनों लड़कियों को लेकर यहां दिन भर गहमा-गहमी बनी रही।

मजूदूरी पेशा हैं मां बाप
पुलिस के अनुसार दोनों लड़कियों के माता-पिता मजदूर पेशा हैं। वे अनुसूचित जाति वर्ग से हैं। उनके द्वारा उठाए गए कदम से ग्रामीण हैरान हैं। लड़कियों के माता-पिता कुछ भी कहने से बच रहे हैं। बताया गया है कि दोनों लड़कियां साथ में पढ़तीं और साथ में ही घूमती थीं। किसी को अंदाजा नहीं था कि इस तरह आपस में शादी कर लेंगी।

दोनों पक्षों को बुलाया
एसपी अतुल सिंह के ने बताया कि बरही-खितौली से लगे करेला गांव में दो लड़कियों द्वारा आपस में शादी की गई है। पालकों द्वारा मामले की जानकारी बरही थाने में दी गई है। घटना से जुड़े सभी पहलुओं की बारीकी से जांच के लिए दोनों पक्षों को महिला थाने में बुलाया गया है। जांच के बाद ही इसमें ठोस तथ्य सामने आ सकेंगे। परिजन बालिकाओं को समझाने का प्रयास कर रहे हैं।

Show More
Premshankar Tiwari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned