लॉक डाउन: इस शहर के मुक्तिधामों में अंतिम संस्कार के लिए लकड़ी का संकट

कहीं पांच तो कहीं आठ दिन की लकड़ी का स्टॉक शेष, मुक्तिधाम के ठेकेदारों ने लकड़ी की उपलब्धता के लिए कलेक्टर कार्यालय में लगाई गुहार

By: Manish garg

Published: 18 Apr 2020, 10:20 PM IST

जबलपुर
कोरोना संकट के कारण हुए लॉक डाउन के कारण मध्यप्रदेश के जबलपुर शहर के मुक्तिधामों में शवों के अंतिम संस्कार के लिए लकड़ी का संकट हो गया है। मुक्तिधामों में लकड़ी की उपलब्धता सुनिश्चत कराने की मांग को लेकर मुक्तिधामों के ठेकेदार संचालक ने कलेक्टर कार्यालय पहुंच कर लकड़ी उपलब्धता की मांग की है।
मुक्तिधाम के ठेकेदारों का कहना है कि लॉक डाउन के कारण लकड़ी का परिवहन नहीं हो रहा है। शहर के मुक्तिधामों में बीते 25 दिनों से लकड़ी के ट्रक नहीं आए हैं। जबकि मुक्तिधामों में शहर के अलग
अलग क्षेत्रों से औसतन 35 से 50 शव आते हैं। कलेक्टर कार्यालय पहुंचे गुप्तेश्वर मुक्तिधाम की संचालक सुनील पुरी गोस्वामी, करियापाथर मुक्तिधाम संचालक राजेंद्र तिवारी तथा रानीताल मुक्तिधाम संचालक मनीष तिवारी ने बताया कि अलग-अलग किसी के पास ५दिन का तो किसी के पास लगभग ८ से १० दिन का स्टाक ही शेष है, उन्होंने कलेक्ट्रेट पहुंच कर जिम्मेदार अधिकारियों से मुक्तिधाम में लकडिय़ों की व्यवस्था करवाने की मांग की है।
जारी किए पास-
मुक्तिधाम संचालकों की समस्या सुनने के बाद इन्हें कलेक्टर कार्यालय से पास जारी किए गए। साथ ही वन विभाग के अधिकारियों से संपर्क करने सम्बन्धी निर्देश जारी किएगए। वहीं वन विभाग के डीएफओ से संपर्क करने पर उन्हें अतिशीघ्र लकड़ी उपलब्ध करवाने का आश्वासन दिया गया है।

Manish garg Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned