लोकायुक्त ने आरआई को रंगे हाथों 5500 रिश्वत लेते दबोचा, मचा हड़कंप

लोकायुक्त ने आरआई को रंगे हाथों 5500 रिश्वत लेते दबोचा, मचा हड़कंप

Deepankar Roy | Publish: Jul, 13 2018 05:02:40 PM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

जबलपुर तहसील कार्यालय का मामला

जबलपुर। लोकायुक्त सहित अन्य भ्रष्टाचार रोधी पुलिस बल की कार्रवाईयों के बावजूद भी रिश्वतखोरी पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। जिले में करीब कई विभागों में हर काम के लिए रिश्वत मांगी जाती है। यह हाल तब है जब लोकायुक्त की कार्रवाई में संभाग में आए दिन कोई न कोई पकड़ा जा रहा है। लोग राजस्व संबंधी काम के लिए तहसील के कार्यालयच चक्कर काटकर परेशान हो रहे हैं और रिश्वतखोर अपने रिश्वतखोरी में डूबे हुए हैं। इसी प्रकार की एक कार्रवाई में जबलपुर तहसील का राजस्व निरीक्षक लोकायुक्त टीम के हाथ पकड़ा गया है।


रिश्वत की बाकी रकम ले रहा था
जबलपुर लोकायुक्त की टीम ने जबलपुर तहसील में राजस्व निरीक्षक को रिश्वत की रकम लेते रंगेहाथों पकड़ लिया है। इस कार्रवाई से तहसील में हड़कंप मच गया। घंटो तहसील में अफरा-तफरी मचा रहा। लोकायुक्त टीम ने उस वक्त राजस्व निरीक्षक को पकड़ा जब वह रिश्वत की बाकी रकम ले रहे थे।


8000 मांगे थे रिश्वत
लोकायुक्त ने जबलपुर तहसील कार्यालय में राजस्व निरीक्षक अरविंद पांडे को शुक्रवार की दोपहर 2.40 बजे कार्यालय में 5500 रुपए रिश्वत लेते रंगे हाथों दबोच लिया। उक्त रिश्वत की रकम अरविंद पांडे ने बड़ा पत्थर निवासी दीपक पटेल से मांगी थी। दीपक पटेल की मानेगांव में 3600 वर्ग फीट का प्लाट है ।उसके डायवर्सन के लिए महीने भर पहले आवेदन दिया था। आदेश करवाने की एवज में अरविंद पांडे ने 8000 रुपए रिश्वत मांगे । बाद में 7500 रुपए में बातचीत पर हुई। गुरुवार को दीपक ने 2000 रिश्वत दिए थे और 5500 रुपए शुक्रवार को देने की बात कही थी ।


टीम में ये रहे शामिल
दीपक पटेल की शिकायत पर गुरुवार को ही लोकायुक्त एसपी अनिल विश्वकर्मा ने डीएसपी दिलीप झरबड़े ,निरीक्षक मनोज गुप्ता, निरीक्षक कमल सिंह, आरक्षक जुबेर खान ,सोनू चोकसे, चालक राकेश विश्वकर्मा की टीम गठित कर दी थी। लोकायुक्त ने दोनों की बातचीत को ट्रैप किया और फिर जाल बिछाकर शुक्रवार दोपहर कार्यालय में रंगे हाथों दबोच लिया।

 

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned