heavy rain alert today जबलपुर में भारी बारिश के चेतावनी, बरगी बांध से छोड़ा पानी तो नर्मदा में बाढ़ जैसा नजारा

heavy rain alert today जबलपुर में भारी बारिश के चेतावनी, बरगी बांध से छोड़ा पानी तो नर्मदा में बाढ़ जैसा नजारा
heavy rain alert today

Lalit Kumar Kosta | Updated: 23 Aug 2019, 11:54:05 AM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

सीजन में अब तक 1022.1 मिमी बारिश, शाम को बारिश, उमस से राहत

जबलपुर। सुबह से आसमान में छाए काले बदरा दिन भर उमडऩे-घुमडऩे के बाद शाम को बरसे। उत्तर-पूर्वी मध्य प्रदेश के ऊपर निर्मित कम दबाव के क्षेत्र के प्रभाव से शहर के मौसम ने शाम को करीब पांच बजे करवट ली। झारखंड की ओर से ठंडी हवा का झोंका आया। उसके साथ ही आसमान में काले बादल की चादर बिछ गई। उसके बाद कुछ देर तक रिमझिम बारिश हुई। वर्षा के साथ ही शाम सुहानी हो गई। बादलों के बने रहने के कारण दोपहर को महसूस हो रही हल्की उमस गायब हो गई। तापमान सामान्य से नीचे बना रहा।


मौसम विज्ञान केंद्र के अनुसार गुरुवार को अधिकतम तापमान 28.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया है। न्यूनतम तापमान 23.4 डिग्री रेकॉर्ड किया गया है। दोनों स्तर पर तापमान सामान्य से एक डिग्री कम रहा। आद्र्रता सुबह के समय 95 प्रतिशत और शाम को 85 प्रतिशत रेकॉर्ड की गई है। उत्तर-पश्चिमी हवा 3 किमी प्रतिघंटे की औसत गति से चली। गुरुवार को 6 मिमी बारिश होने का अनुमान है। इसके साथ ही सीजन में कुल बारिश का आंकड़ा बढकऱ 1022.1 मिमी हो गया है।


रविवार से छटेंगे बादल
मौसम विज्ञान केंद्र में सहायक वैज्ञानिक देवेंद्र कुमार तिवारी के अनुसार शुक्रवार को बंगाल की खाड़ी के सिस्टम के कारण उत्तर-पूर्वी मप्र और उससे लगे दक्षिणी उत्तर प्रदेश के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बना हुआ था।



बरगी बांध के चार गेट बंद, सात से पानी की निकासी
बरगी बांध में पानी की आवक में कमी आ गई है। बांध के 11 में से चार गेट बंद कर दिए गए हैं। जल विद्युत गृह से भी लगातार विद्युत उत्पादन किया जा रहा है। पर्यटक भी वहां लगातार पहुंच रहे हैं। जानकारी के अनुसार बरगी बांध में गुरुवार सुबह से ही पानी की आवक कम हो गई थी। जिसके चलते सुबह सात बजे दो गेट बंद कर दिए गए थे। शाम को जब दोबारा रिव्यू किया गया, तो यह आवक और कम हो गई। जिसके बाद शाम साढ़े पांच बजे दो और गेट बंद कर दिए गए। एसई अजय सूरी ने बताया कि वर्तमान में 1290 क्यूमेक पानी की आवक बनी है। ताप विद्युत गृह, नहर और नदी में कुल 1285 क्यूमेक पानी सात गेटों के जरिए छोड़ा जा रहा है। सभी सात गेट एक मीटर तक खुले हुए हैं।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned