आधी रात को पहुंची ऑक्सीजन, वीडियो में देखें कैसे कटा पल पल का इंतजान

अभी भी व्यवस्थाएं नहीं आ रहीं पटरी पर
राहत लेकर पहुंची ऑक्सीजन एक्सप्रेस, इधर एक प्लांट फिर बंद, संकट बरकरार
ऑक्सीजन एक्सप्रेस को जल्दी पहुंचाने के लिए ग्रीन कॉरीडोर

 

By: Lalit kostha

Published: 28 Apr 2021, 02:09 PM IST

जबलपुर। कोरोना संकट के बीच रेलवे की ऑक्सीजन एक्सप्रेस प्रदेश के लिए मंगलवार को ऑक्सीजन की पहली खेप लेकर आयीं। यह एक्सप्रेस देर रात लगभग ढाई बजे भेड़ाघाट स्टेशन पहुंची। जहां पर ऑक्सीजन टैंकर अनलोड करने के लिए रेलवे ने रातों-रात विशेष रैम्प तैयार किया है। इस एक्सप्रेस से एक टैंकर ऑक्सीजन शहर को मिली है। जिसमें लगभग साढ़े 10 मीट्रिक टन लिक्विड ऑक्सीजन है। ऑक्सीजन एक्सप्रेस से दो टैंकर ऑक्सीजन मंडीदीप (भोपाल) और 3 टैंकर ऑक्सीजन की खेप मकरोनिया(भोपाल) में अनलोड हुए।

लिक्विड की कमी से जूझ रहे ऑक्सीजन प्लांट के लिए मंगलवार की रात को राहत लेकर ऑक्सीजन एक्सप्रेस पहुंची। ऑक्सीजन एक्सप्रेस से 10 मीट्रिक टन लिक्विड शहर पहुंची, परंतु इसके बाद भी हालात नहीं सुधरे हैं। तीनों प्लांट को प्रतिदिन जरूरत के हिसाब से 40 से 50 टन ऑक्सीजन की आवश्यकता है, सडक़ मार्ग से टैंकर नहीं आ पाए। जिस कारण एक प्लांट बंद हो गया। शहर के दो ऑक्सीजन प्लांट से ही मंगलवार को ऑक्सीजन आपूर्ति हुई।

कटनी से दो टुकड़े में बंट गई एक्सप्रेस
प्रदेश के लिए पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस बोकारो से मंगलवार की सुबह साढ़े पांच बजे छह टैंकर लिक्विड ऑक्सीजन लेकर रवाना हुई। इसे जल्दी पहुंचाने के लिए रेलवे ने ग्रीन कॉरिडोर बनाया। पश्चिम मध्य रेल के न्यू कटनी जंक्शन पहुंचने के बाद ऑक्सीजन एक्सप्रेस दो टुकड़े में बंट गई। एक टैंकर लेकर इंजन भेड़ाघाट स्टेशन पहुंचा। शेष पांच टैंकर लेकर एक्सप्रेस मकरोनिया स्टेशन पहुंची। जहां तीन टैंकर अनलोड होने के बाद बचे दो टैंकर लेकर मंडीदीप रवाना हुई।

 

18 घंटे में 1 हजार 16 किमी का सफर
बोकारो से ऑक्सीजन एक्सप्रेस झारसुगुड़ा, बिलासपुर, कटनी के रास्ते प्रदेश में आयीं। बोकारो से भेड़ाघाट तक लगभग एक हजार 16 किमी की दूरी ऑक्सीजन एक्सप्रेस में 18 घंटे में पूरी की। लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन क्रायोजेनिक भार होने के कारण इसकी गति और एक्सेलेशन पर लगातार निगरानी रखी गई। यह टैंकर खाली होने के बाद वापिस लोडिंग के लिए रेलमार्ग से ही बोकारो भेजे जाएंगे।


बोकोरा से मध्य प्रदेश के लिए रवाना की गई पहली ऑक्सीजन एक्सप्रेस रात में शहर पहुंची। इस एक्सप्रेस में लिक्विड ऑक्सीजन के छह टैंकर है। एक टैंकर भेड़ाघाट स्टेशन में अनलोड हुआ है। बाकी टैंकर मकारोनिया और मंडीदीप में अनलोड होंगे।
- राहुल जयपुरियार, मुख्य जनसम्पर्क अधिकारी, पश्चिम मध्य रेल

Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned