मकर की किस्मत चमकाने चंद्रमा आज आएंगे घर, इनके लिए बुरा समय रहेगा- पंचांग

मकर की किस्मत चमकाने चंद्रमा आज आएंगे घर, इनके लिए बुरा समय रहेगा- पंचांग

 

By: Lalit kostha

Updated: 29 Mar 2019, 09:28 AM IST

जबलपुर। शुभ विक्रम संवत् : 2075, संवत्सर का नाम : विरोधकृत्, शाके संवत् : 1940, हिजरी संवत् : 1440, मु.मास: रज्जव तारीख 21. अयन : उत्तरायण. ऋतु : बसंत, मास : चैत्र, पक्ष : कृष्ण, तिथि - रात्रि 2.21 तक रिक्ता तिथि नवमीं उपरांत पूर्णा तिथि दशमीं रहेगी। रिक्ता तिथि में सभी प्रकार के मांगलिक कार्य निशिद्ध माने जाते हैं। वहीं पूर्णा तिथि मांगलिक कार्य हेतु उपयुक्त मानी जाती है। रिक्ता तिथि में अग्रिशमक कार्य, पत्रलेखन, शिल्पविद्या, वास्तु, भ्र्रमण मनोरंजन तथा जनहितैषी कार्य हेतु यह तिथि अत्यंत उपयुक्त मानी जाती हैैै।
योग- रात्रि 7.17 तक परिधि उपरांत शिव योग रहेगा। दोनों ही नैसर्गिक योग शुभ तथा सुखद रहेंगे।
विशिष्ट योग- आज रिक्ता तिथि के कारण किसी मांगलिक कार्य का शुभ मुहूर्त नहीं है, दैनिक कार्य हेतु दिन मंगलकारी रहेगा।
करण- सूर्योदय काल से तैतिल उपरांत गर तदनंतर वणिज करण का प्रवेश होगा। करण गणना सामान्य है।
नक्षत्र- उग्रसंज्ञक ऊघ्र्वमुख नक्षत्र पूर्वाषाढ़ दोपहर 2.45 तक उपरांत उत्तराषाढ़ नक्षत्र रहेगा। पूर्वाषाढ़ नक्षत्र में प्रतिष्ठा, ग्रहशांति, आखेट, गृहारम्भ, ग्रहप्रवेश, यात्रा, उपनयन, वास्तु, क्रय विक्रय जैसे कार्य सम्पादित किए जा सकते हैं, वहीं उत्तराषाढ़ नक्षत्र में शिक्षा, कारीगरी, मशीनरी, जलयंत्र निर्माण जैसे कार्य शुभ तथा सुखद माने जाते हैं।

शुभ मुहूर्त - आज कर्जनिपटारा, मित्रमिलन, आमोद प्रमोद, पत्रलेखन, भम्रण मनोरंजन, शिल्पविद्या, अग्रिशमक कार्य तथा जनहितैषी कार्य हेतु दिन शुभ तथा मंगलकारी है।
श्रेष्ठ चौघडि़ए - आज प्रात: 7.30 से 10.30 लाभ, अमृत दोपहर 12.00 से 1.30 शुभ तथा रात्रि 9.00 से 10.30 लाभ की चौघडिय़ा शुभ तथा मंगलकारी रहेगी।
व्रतोत्सव- आज : आज के दिन भगवती अन्नपूर्णा की आराधना अत्यंत मंगलकारी मानी जाती है।
चन्द्रमा : रात्रि 9.18 तक धनु राशि में उपरांत शनि प्रधान राशि मकर राशि में संचरण करेगा।

ग्रह राशि नक्षत्र परिवर्तन: सूर्य के मीन राशि में गुरु वृश्चिक राशि में तथा शनि धनु राशि के साथ सभी ग्रह यथा राशि पर स्थित हैं। सूर्य का उ.भाद्रपद नक्षत्र में संचरण रहेगा।
दिशाशूल: आज का दिशाशूल पश्चिम दिशा में रहता है, इस दिशा की व्यापारिक यात्रा को यथा सम्भव टालना हितकर है। चन्द्रमा का वास पूर्व दिशा में है, सन्मुख एवं दाहिना चन्द्रमा शुभ माना जाता है।
राहुकाल: दोपहर 10.30.00 बजे से 12.00.00 बजे तक। (शुभ कार्य के लिए वर्जित) आज जन्म लेने वाले बच्चे - आज जन्मे बालकों का नामाक्षर भू,ध,फ, अक्षर सेे आरम्भ कर सकते हैं। पूर्वाषाढ़ नक्षत्र में जन्मे बालकों की राशि धनु होगी, राशि स्वामी गुरु तथा रजतपाद पाया में जन्म माना जाएगा। धनु राशि के जातक प्राय: चंचल, उग्रस्वभाव, साहसी, स्वतंत्र विचारों वाले, प्रभावशाली, प्रकृतिप्रेमी, जनहितैषी, मित्र हितैषी तथा प्रगतिशील विचारों के अन्वेषक माने जाते हैं, आयु के मध्य भाग में भाग्योदय होता है।

Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned