Sankranti 2018: नर्मदा के इन तटों पर पहुंचना दूभर, ऐसे आसान होगी राह

Sankranti 2018: नर्मदा के इन तटों पर पहुंचना दूभर, ऐसे आसान होगी राह

deepak deewan | Publish: Jan, 14 2018 08:02:36 AM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

भेड़ाघाट और ग्वारीघाट में अस्थाई रूप से बदला रूट प्लान, रेवा घाटों तक नहीं जा सकेंगे वाहन

जबलपुर. मकर संक्रांति पर भेड़ाघाट, ग्वारीघाट और तिलवाराघाट समेत नर्मदा के अन्य तटों पर भारी भीड़ उमड़ पड़ी है। ब्रह्ममुहुर्त में ही इन तटों पर बड़ी संख्या में नर्मदा स्नान के लिए उमडऩे लगे थे। सुबह से ही शहर से तटों इन प्रसिद्ध नर्मदा घाटों के पास की मुख्य सडक़ों पर वाहनों का रेला दिखाई देने लगा था। सडक़ों पर जाम से श्रद्धालुओं को परेशानी न हो, इसलिए नर्मदा के सभी घाटों में ट्रैफिक रूट में अस्थाई रूप से बदलाव किया गया है। किसी भी वाहन को नर्मदा तटों तक नहीं जाने दिया ज रहा है। ट्रेफिक पुलिस ने इस बार तगड़ी व्यवस्थाएं की हैं ताकि वाहनों की रेलमपेल से व्यवस्थाएं प्रभावित न हों और न ही बार-बार घंटों जाम लगने की स्थिति बने।


ये है वर्तमान व्यवस्था
भेड़ाघाट : सगड़ा की ओर से जाने वाले सभी चारपहिया व तीन पहिया वाहनों को भड़पुरा प्राथमिक शाला तक ही प्रवेश दिया जा रहा है। भेड़ााघाट चैराहे से धुंआधार की ओर जाने वाले बडे वाहन, मेट्रो बसें, 407, चार पहिया, आपे ऑटो जनपद पंचायत भेड़ाघाट तक आ-जा पा रहे हैं। गौरतलब है कि भेड़ाघाट पर सर्वाधिक भीड़ देखी जा रही है। यहां हर साल की तरह इस बार भी लाखों नर्मदा भक्तों के आने का अनुमान लगाया जा रहा है। धुआंधार जल प्रपात के कारण यह नर्मदा घाट दुनियाभर में जाना जाता है। ऐसे में देश-विदेश से अनेक सैलानी भी यहां आते रहते हैं। रूटीन टूरिस्टों के कारण फिलहाल वैसे ही भेड़ाघाट इन दिनों गुलजार है। अब मकर संक्रांति के कारण तो यहां लाखों लोग नर्मदा दर्शन और स्नान के लिए आ रहे हैं। रविवार की छुट्टी होने से भेड़ाघाट पर नर्मदा दर्शन, स्नान के लिए भक्तों का मानो सैलाब उमड़ पड़ा है। ऐसे में व्यवस्थाएं बनाए रखने में प्रशासन और पुलिस को खासी मशक्कत करनी पड़ रही है।
ऐसी है पार्किंग : लम्हेटाघाट के आगे, भड़पुरा तिराहा प्राथमिक स्कूल के पास, गोपलपुर नाका के पास, अस्थाई हेलीपैड, सरस्वती घाट, भेड़ाघाट थाना।


ग्वारीघाट :
नर्मदा का यह घाट जबलपुर शहर में ही है सो यहां शहरवासी बड़ी संख्या में पहुंचते हैं। यहां रविवार को सुबह से ही नर्मदा भक्तों की भीड़ देखी जा रही है। यहां मिनी मेट्रो बसें सिद्ध गणेश मंदिर तक ही आ-जा रहीं हैं। ऑटो को अवधपुरी मोड़ से डायवर्ट कर रामलाल मंदिर तक जाने दिया जा रहा है। मकर सक्रांति की व्यवस्थाओं के तहत सभी वाहनों को अवधपुरी मोड़ से आयुर्वेद संस्थान की ओर डायवर्ट किया जा रहा है।
पार्किंग : आयुर्वेद संस्थान के सामने, सिद्ध गणेश मंदिर परिसर, भटौली।

Ad Block is Banned