मामा दे रहा था मौसी का साथ, इसलिए पिता और दोस्त के साथ मिलकर कर दी हत्या

मामा दे रहा था मौसी का साथ, इसलिए पिता और दोस्त के साथ मिलकर कर दी हत्या

By: Lalit kostha

Updated: 06 Oct 2021, 10:39 AM IST

जबलपुर। पिता और नाबालिग दोस्त के साथ मिलकर कपड़ा व्यवसायी की हत्या करने के आरोपी सौरभ सोमकुंवर के खिलाफ रांझी पुलिस ने चोरी और धोखाधड़ी का प्रकरण भी दर्ज किया है। पुलिस रिमांड में पूछताछ में आरोपी ने बड़ी मौसी के घर से जेवर चोरी करने और उनकी जगह नकली जेवर रखना स्वीकार किया। उसने यह भी कबूला कि इस मामले में मामा मौसी का साथ दे रहा था। इसलिए उसने पिता और दोस्त के साथ मिलकर उसकी हत्या की।]

कपड़ा व्यवसायी की हत्या के आरोपी पर चोरी और धोखाधड़ी का मामला भी दर्ज
यह है मामला
आजाद नगर निवासी दीपक कुलमाली (45) पत्नी प्रीति (34) और 12 वर्षीय बेटी के साथ रहता था। गोकलपुर में प्रीति गारमेंट नाम से दीपक की कपड़ा दुकान है। 29 सितंबर की रात दीपक के जीजा ओमप्रकाश सोमकुंवर, भांजे सौरभ और 16 वर्षीय किशोर ने सिर पर पत्थर पटक कर उसकी हत्या कर दी। गुरुवार सुबह प्रीति पति की तलाश में निकली तो जीसीएफ की खंडहर हो चुकी बिल्डिंग नंबर 319 के क्वार्टर नम्बर-1 में दीपक का खून से लथपथ शव मिला था। पुलिस ने मामले में हत्या का प्रकरण दर्ज कर तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया था।

सौरभ को रिमांड पर लेकर पूछताछ की तो पता चला कि उसकी मौसी नंदा कुलमाली सिवनी स्कूल में शिक्षक है। वह जब भी सिवनी जाती तो सौरभ की मां बबीता को घर की चाबी दे जाती थी। सौरभ नंदा के घर में जाता और सोने के जेवर चोरी कर उनकी जगह नकली जेवर रख देता था। नंदा ने कुछ समय पूर्व अलमारी देखी तो नकली जेवर देखकर बबीता से शिकायत की। बबीता, उसके पति ओमप्रकाश और बेटे सौरभ का नंदा से विवाद हुआ। मामले में दीपक नंदा का साथ दे रहा था, इसलिए ओमप्रकाश और सौरभ ने दीपक की हत्या की। जांच के बाद पुलिस ने सौरभ पर धोखाधड़ी और चोरी का प्रकरण भी दर्ज किया।

Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned