ऐप और पोर्टल पर अपलोड होगा प्रवासी श्रमिकों का डाटा, सर्वे शुरू

एनआईसी करेगा मॉनिटरिंग

By: reetesh pyasi

Published: 28 May 2020, 08:15 PM IST

जबलपुर। जिले में प्रवासी मजदूरों के पंजीयन, सत्यापन और सर्वे बुधवार को शुरू हो गया। इसके लिए एनआईसी ने संबल ऐप और पोर्टल तैयार किया है। सर्वे कर रहे कर्मचारियों को मोबाइल ऐप या पोर्टल पर डाटा अपलोड करना होगा। एक मैनुअल फार्मेट भी होगा। जिले में पहले से मौजूद मजदूरों के अलावा शहर और ग्रामीण क्षेत्रों में करीब 12 हजार श्रमिक आए हैं। एनआईसी की ओर से बनाए गए ऐप में सर्वे कर रहे कर्मचारियों को श्रमिक का नाम, मूल निवास, समग्र आईडी सहित अन्य जानकारी भरना होगा। सर्वे के आधार पर प्रदेश सरकार प्रवासी श्रमिकों के कल्याण के लिए योजनाएं बनाएगी। अभियान के तहत जिला प्रशासन प्रवासी मजदूरों का संबल योजना और श्रम कर्मकार मंडल की योजनाओं के तहत पंजीयन करेगा।

दो साल पहले भी हुआ था सर्वे
संबल योजना के तहत प्रदेश सरकार ने डेढ़ साल पहले भी सर्वे कराया था। इसमें संगठित और असंंगठित क्षेत्र के श्रमिको का पंजीयन किया गया था। हालांकि अभियान पूरा नहीं हो सका था। इससे श्रमिकों को इसका लाभ नहीं मिल पाया था।

डैश बोर्ड पर अपडेट होगी जानकारी
अभी ऐप और पोर्टल के माध्यम से अभियान चलाया जाएगा। जल्द ही एनआईसी इसका डैश बोर्ड भी बनाएगा, जिससे हर जिले का आंकड़ा अलग प्रदर्शित हो। एनआईसी से मिली रिपोर्ट के आधार पर जिला स्तर पर समीक्षा होगी। ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में सर्वे के लिए अलग-अलग विभागों के कर्मचारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई हैं।
प्रवासी श्रमिकों के पंजीयन, सर्वे और सत्यापन में संबल ऐप का उपयोग किया जा रहा है। पोर्टल पर भी जानकारी भरी जाएगी। जल्द ही इसका डैश बोर्ड भी बनाया जाएगा, जिससे जिला स्तर मॉनिटरिंग की जा सके।
आशीष शुक्ला, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी

Corona virus
reetesh pyasi Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned