भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को ऊर्जा मंत्री का करारा जवाब...देखें वीडियो

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष को ऊर्जा मंत्री का करारा जवाब...देखें वीडियो
ऊर्जा मंत्री

Virendra Kumar Rajak | Updated: 12 Jun 2019, 07:25:06 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

पिछली सरकार पर भी उठाए ऊर्जा मंत्री ने सवाल

 

जबलपुर, प्रदेश सरकार के ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने बुधवार को भाजपा प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह पर निशाना साधा। उन्होंने राकेश सिंह के एक बयान के जवाब में कहा कि राकेश सिंह इस बात की चिंता करें कि उनकी पिछली सरकार ने कितने उपकरण खरीदे और किस दर पर खरीदे, यदि हम वह लेकर सामने आ जाएंगें, तो आने वाले घोटाले के पहले पिछला घोटाला खुल जाएगा। उन्होंने कहा कि हम कोई गलत काम नहंी करेंगें। उन्होंने कहा कि दमोह में भाजपा के पूर्व वित्तमंत्री जयंत मलैया के प्रदर्शन के पहले की रात में फॉल्ट आए, वहीं इंदौर के द्वारकापुरी में भी शरारती तत्वों ने ऐसा किया। जो संदेह के घेरे में है। ऊर्जा मंत्री ने पत्रकारवार्ता में कहा कि मप्र में विपक्ष अघोषित कटौती का जो आरोप लगा रहा है, वह गलत है। क्योंकि दिसंबर 2018 से मई 2019 तक प्रदेश में दिसंबर में 11, जनवरी में 10, फरवरी में 15, लगभग दस प्रतिशत से ज्यादा बिजली की सप्लाई की गई है। वहीं फॉल्ट और ट्रिपिंग भी पिछले साल से कम हुईं हैं। यह भी कहा- विद्युत कंपनियों में कर्मियों की कमी बड़ा मामला पिछले 15 साल में पिछली सरकार ने कदम नहंी उठाए, ज्यादातर कदम आऊटसोर्स किए, इस पर चल रहा है काम- बिजली बिल की दर नियामक आयोग करेगा तय- बिजली खरीदी के बिना 3500 करोड़ रुपए चुकाने पड़ रहे हैं, इसलिए एमओयू की लीगल पॉस्बल्टी देखी जा रही है, ताकि आवश्यक कार्रवाई की जा सके। - प्रदेश में 50 प्रतिशत मैंटेनेंस पूरा हो चुका है। - बिलों की विसंगतियों के लिए जिला व डीसी स्तर पर गठित कमेटियों की बैठक मंगलवार को होगी।- डीसी लेवल पर बने वॉट्सएप गु्रप, जनप्रतिनिधियों, व्यापारियों, किसान, गणमान्य नागरिकों को दी जाए आवश्यक सूचनाएं।

Show More

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned