पिता के सामने 17 साल की लडक़ी का अपहरण हुआ, नहीं खोज पाई पुलिस

पिता के सामने 17 साल की लडक़ी का अपहरण हुआ, नहीं खोज पाई पुलिस
minor girl kidnapped case in mp IPC Section 363 Punishment for kidnapping minor girl rape minor girl love story girl viral videos

Lalit Kumar Kosta | Updated: 14 Jun 2019, 11:46:04 AM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

पिता के सामने 17 साल की लडक़ी का अपहरण हुआ, नहीं खोज पाई पुलिस

 

जबलपुर। पुलिस और उसकी कार्यप्रणाली हमेशा से ही संवेदनहीन रही है। खासकर गरीब और मजबूर लोगों के मामले में पुलिस कार्रवाई सवालों के घेरे में आ ही जाती है। वहीं रसूखदारों व दबंगों के मामले में पुलिस की तत्परता देखते ही बनती है। ऐसा ही मामला एक पिता और बेटी का आया है। बेटी का अपहरण हो गया है, पिता पुलिस अधिकारियों के चक्कर काट रहा है, लेकिन उसकी कोई मदद नहीं की जा रही है। अब कोर्ट ने सख्ती दिखाई है।

news facts-

- 15 दिन पहले नाबालिग बेटी का अपहरण
- पुलिस ने खोजने की नहीं उठाई जहमत’
-पीडि़त महिला ने बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका में कहा
मप्र हाईकोर्ट से एक महिला ने गुहार लगाई कि उसकी नाबालिग बेटी का एक पखवाड़े पहले अपहरण हो गया। लेकिन, पुलिस हाथ पर हाथ रखे बैठी है। संदेही केपरिजन के बयान के तक नहीं लिए गए। जस्टिस अंजुली पालो की अवकाशकालीन सिंगल बेंच ने मामले पर गृहसचिव, डीजीपी, एसपी जबलपुर, अधारताल टीआइ को नोटिस जारी कर जवाब मांगा। निर्देश दिए गए कि अपहृत किशोरी को खोजकर 20 जून को कोर्ट में हाजिर किया जाए।

जबलपुर निवासी महिला ने बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका दायर कर कहा कि 29 मई 2019 को चांदमारी तलैया निवासी सौरभ डेविड ने उसकी 17 वर्षीय बेटी का अपहरण कर लिया। इसके बाद से उसकी बेटी को अज्ञात जगह पर बंधक बनाकर रखा है। अधारताल थाना पुलिस ने रिपोर्ट पर धारा 363 का प्रकरण दर्ज किया। लेकिन, किशोरी व आरोपी युवक को खोजने के लिए प्रयास नहीं कर रही। इस सम्बंध में याचिकाकर्ता ने एसपी को भी आवेदन देकर बेटी की खोज-खबर लगाने की गुहार लगाई। लेकिन, कोई कार्रवाई नहीं हुई। प्रारम्भिक सुनवाई के बाद कोर्ट ने जबलपुर एसपी व अधारताल टीआइ को निर्देश दिए कि अपहृत किशोरी को खोजकर 20 जून को कोर्ट में पेश किया जाए। अनावेदकों को नोटिस जारी कर कोर्ट ने मामले पर स्पष्टीकरण देने को कहा।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned