अक्टूबर की शुरुआत होगी मानसून की वापसी, अभी हो सकती है झमाझम बारिश

अक्टूबर की शुरुआत होगी मानसून की वापसी, अभी हो सकती है झमाझम बारिश
advanced weather satellite,weather update,

Abhishek Dixit | Updated: 23 Sep 2019, 07:18:25 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

कमजोर पड़ा मानसून, लोकल सिस्टम से हो रही बारिश

जबलपुर. मानसून की वापसी राजस्थान से शुरू होती है, यह वापसी अब तक शुरू नहीं हो सकी है। इस बार अक्टूबर प्रथम सप्ताह तक मानसून की वापसी की सम्भावना है। हालांकि बंगाल की खाड़ी में मानसून कमजोर पडऩे लगा है। मौसम विभाग के अनुसार बंगाल की खाड़ी में लो प्रेशर बना था, जो कमजोर पड़ गया है। लोकल सिस्टम से शहर के कुछ क्षेत्रों में हल्की बारिश या बौछारें पड़ सकती हैं। शहर में सोमवार को कभी धूप तो कभी बादल मंडराने से छांव का मौसम बना। सुबह से रात तक आसमान पर बादलों का डेरा बना रहा। मौसम विज्ञान केंद्र अधारताल के अनुसार शहरी क्षेत्र में सोमवार को बारिश नहीं हुई। सीजन में औसत बारिश 52 इंच की अपेक्षा 60 इंच से अधिक 1532.6 मिमी बारिश हो चुकी है। मानसून सीजन सितंबर तक होता है।

दिन में हुई उमस
बादलों के कारण मौसम नम बना रहा। पर्याप्त आद्र्रता के दौरान धूप हुई तो तापमान बढऩे से हल्की उमस हुई। अधिकतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 32.8 डिग्री सेल्सियस एवं न्यूनतम तापमान सामान्य से एक डिग्री अधिक 24.5 डिग्री सेल्सियस था। सुबह की आद्र्रता 83 एवं शाम की आद्र्रता 79 प्रतिशत दर्ज की गई। उत्तर पूर्वी हवा की औसत रफ्तार 3 किमी प्रति घंटा दर्ज की गई।

मौसम विभाग के वैज्ञानिक सहायक आरके दत्ता के अनुसार मानसून का कोई तगड़ा सिस्टम नहीं बना है। धरती में नमी और आद्र्रता पर्याप्त होने के कारण धूप होते ही वाष्पीकरण से बादल बन रहे हैं। इसी कारण कहीं-कहीं बारिश हो रही है। राजस्थान में मानसून की वापसी शुरू होने के 15 दिन बाद तक मप्र में मानसून का असर रहता है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned