एमपीपीएससी असिस्टेंट प्रोफेसर के लिए 15 दिन बढ़ाएगा आवेदन की तारीख

एमपी गवर्नमेंट ने हाईकोर्ट में कहा, आयु सीमा बढ़ाने पर भी होगा विचार

By: deepankar roy

Published: 09 Feb 2018, 09:33 PM IST

जबलपुर। मध्यप्रदेश लोक सेवा आयोग असिस्टमेंट प्रोफेसर्स की भर्ती प्रक्रिया के लिए आवेदन की तारीख बढ़ाएगी। इस मामले में शुक्रवार को राज्य सरकार की ओर से मध्यप्रदेश हाईकोर्ट में जानकारी प्रेषित की गई है। कोर्ट में राज्य सरकार की ओर से कहा गया है कि मप्र लोक सेवा आयोग द्वारा असिस्टेंट प्रोफेसर्स की भर्ती के लिए आयोजित की जा रही परीक्षा के आवेदन की अंतिम तारीख पंद्रह दिन बढ़ाई जाएगी। अंडरटेकिंग दी गई कि आयु सीमा शिथिल करने पर भी विचार किया जाएगा। चीफ जस्टिस हेमंत गुप्ता व जस्टिस विजय कुमार शुक्ला की डिवीजन बेंच ने सरकार के इस बयान पर मामले की अगली सुनवाई १५ फरवरी नियत कर दी। गौरतलब है कि उक्त पदों के लिए आवेदन की अंतिम तारीख 14 फरवरी है।

यूपी के उम्मीदवार ने दायर की याचिका
उप्र के गोरखपुर निवासी मुकेश कुमार उमर व मुरादाबाद की रीता सिंह ने याचिका दायर की है। इसमें कहा गया है कि मप्र में राज्य लोक सेवा आयोग के जरिए कॉलेजों में असिस्टेंट प्रोफेसरों की भर्ती की जा रही है। इसके लिए मप्र के निवासियों की अधिकतम आयु 40 वर्ष नियत की गई है। जबकि अन्य राज्यों के उम्मीदवारों के लिए अधिकतम आयु सीमा 28 वर्ष ही है। यह संविधान के अनुच्छेद 14 के तहत वर्णित समानता के मूल अधिकार का हनन है। लिहाजा ये नियम निरस्त किया जाए।

आयु सीमा पर हो सकता है विचार
शुक्रवार को राज्य सरकार की ओर से कोर्ट को बताया गया कि आयु सीमा शिथिल करने पर विचार किया जा सकता है। इस पर याचिकाकर्ता की ओर से अधिवक्ता ब्रह्मेंद्र पाठक, प्रशांत दुबे, मनीष अंगिरा ने कहा कि 14 फरवरी उक्त परीक्षा के लिए आवेदन की अंतिम तारीख है। एेसे में आयु सीमा से जुड़े आवेदनों पर विचार कब किया जाएगा? सरकार की ओर से इस पर अंतिम तारीख पंद्रह दिन बढ़ाने का अभिवचन दिया गया। मप्र पीएससी की ओर से वरिष्ठ अधिवक्ता प्रशांत सिंह व राज्य सरकार की ओर से महाधिवक्ता पीके कौरव उपस्थित हुए।

Show More
deepankar roy Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned