मोहर्रम पर यहां बाहर से बुलाई फोर्स, हजारोंं पुलिसकर्मी तैनात

बाहर से बुलाई फोर्स, हजारोंं पुलिसकर्मी तैनात

By: deepak deewan

Published: 11 Sep 2018, 10:47 AM IST

जबलपुर। संस्कारधानी में गणेशोत्सव के साथ ही मोहर्रम की भी तेजी से तैयारियां चल रहीं हैं। शहर में मोहर्रम को अलग ही अंदाज में मनाया जाता है। यही कारण है कि मोहर्रम का यह पर्व पूरे महाकौशल में प्रसिद्ध है। जानकारी के अनुसार शहर में 500 के लगभग ताजिए हर साल रखे जाते हैं। विशेष बात तो यह है कि लगभग 65 ऐसे स्थान हैं, जहां गणेश पंडाल के साथ ही ताजिया का भी पंडाल होगा।


ऐसे में पुलिस अतिरिक्त सतर्कता बरत रही है। सभी स्थानों पर सुरक्षा व्यवस्था बनाने में पुलिस जुटी है। वर्षों से शहर में धार्मिक आयोजन सद्भाव से होते आए हैं। पुलिस इस बार भी त्योहार इसी तरह सम्पन्न कराने तैयार है। गणेशोत्सव और मोहर्रम जैसे त्योहारों के लिए बड़ी सुरक्षा व्यवसथा की जा रही है। पुलिस ने सभी 65 संयुक्त स्थलों पर अस्थाई पुलिस सहायता केंद्र बनाने का निर्णय लिया है। यहां बीट प्रभारी, कर्मी के साथ अतिरिक्त बल तैनात रहेगा। पीए सिस्टम और सीसीटीवी कैमरे की मदद से नजर रखी जाएगी। ताकि जल्द हर स्थिति को समझा जा सकेगा। दोनों त्योहारों को लेकर सोशल मीडिया पर किसी भी तरह की आने वाली पोस्ट पर नजर रखने के लिए साइबर टीम को जिम्मेदारी सौंपी गई है। साइबर टीम के इनपुट पर सम्बंधित थाना प्रभारी को कार्रवाई के निर्देश दिए गए हैं।


मुहर्रम-गणेशोत्सव के लिए हजारों पुलिसकर्मी तैनात

इसके लिए जिले में हजारों पुलिसकर्मी तैनात किए जा रहे हैं। इन पर्वों में जिला बल के 2900 जवानों के अलावा छठवीं वाहिनी, पुलिस लाइन में प्रशिक्षण ले रहे 350 प्रशिक्षु आरक्षक और अतिरिक्त कम्पनियों का बल तैनात करने की तैयारी है।


अब तक यह हुई तैयारी
- पुलिस कंट्रोल रूम में सभी टीआई और अभिसूचना इकाई की बैठक में इस पर चर्चा हो चुकी है।
- हर थाना स्तर पर ऐसे स्थलों की सूची तैयार करायी जा रही है, जहां गणेश और ताजिया के पंडाल आसपास हों।
- गणेश उत्सव और ताजिया बनाने वाली समितियों के पदाधिकारियों से घोषणा पत्र भरवाया जा रहा है।
- इस घोषणा पत्र के अनुसार दोनों ही समितियों के लोगों से आपसी सद्भाव बनाए रखने की बात लिखायी जा रही है।
- डीजे संचालकों पर किसी भी पंडाल या स्थान पर दो साउंड बॉक्स से अधिक लगाने पर कार्रवाई होगी।
- गणेश प्रतिमा विसर्जन मार्ग और ताजिया जुलूस मार्ग को लेकर भी थाना स्तर से विवरण तैयार कराया जा रहा है।

deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned