कॉलेज की व्यवस्थाएं देखने माॢनंग वॉक पर सुबह 5.30 बजे निकली नैक टीम

कॉलेज की व्यवस्थाएं देखने माॢनंग वॉक पर सुबह 5.30 बजे  निकली नैक  टीम
Nacc Team on morning Walk at 5.30 to see college's arrangements

Mayank Kumar Sahu | Publish: May, 22 2019 10:11:45 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

साइंस कॉलेज में नैक टीम की आमद, मैदान और जिम की व्यवस्थाएं देखने सुबह 5.30 बजे किया भ्रमण, छात्रावास को देखा, छात्रों से की बात

जबलपुर।

शासकीय ऑटोनामस साइंस कॉलेज को ग्रेडिंग देने के पूर्व कॉलेज की व्यवस्थाएं जांचने परखने के लिए नैक की तीन सदस्यीय टीम का दूसरे दिन भी निरीक्षण चला। कॉलेज प्रबंधन द्वारा सबमिट की गई रिपोर्ट में छात्रों के लिए खेल मैदान, जिम, उम्दा छात्रावास आदि को रेखाकिंत किया गया था। इन तमाम व्यवस्थाओं को जांचने के लिए टीम के सदस्य सुबह 5.30 बजे मार्निंग वॉक पर कॉलेज कैम्पस के भ्रमण पर निकल पड़े। मैदान में जाकर देखा तो वहीं छात्रावास में पहुंचे जिम को भी देखा। इस दौरान व्यवस्थाओ की जानकारी छात्रों से ली। नैक की तीन सदस्यीय टीम में शामिल हैदराबाद महात्मा गांधी यूनिवर्सिटी के पूर्व कुलपति डॉ.नरसिम्हा रेड्डी, कुरूक्षेत्र यूनिवर्सिटी हरियाणा प्रो.किरण सिंह और सेंट थामस कॉलेज केरल से डॉ.जेनसन पीओ पहुंचे थे। लैंग्वेज, आईक्यूआरसी लैब देखीसदस्यों ने लैग्वेंज, आईक्यूएसी लैब का निरीक्षण किया। क्वॉलिट कंट्रोल की दिशा में किए जा रहे कार्यों की जानकारी ली। आईआईटी डिपार्टमेंट का विजिट किया। यहां उपलब्ध व्यवस्थाओं की जानकारी ली। कॉलेज कैम्पस में साफ-सफाई के साथ ही उपलब्ध पेयजल व्यवस्था, टॉयलेट की भी जांच की। वॉटर कूलर से देखा कि ठंडा पानी आ रहा है कि नहीं। टीम ने हर वह बिंदु को जांचा परखा जो कहीं न कहीं छात्रों और शिक्षण कार्य से जुड़ा था।

हार्डवर्कर हैं यहां के प्रोफेसर

नैक टीम ने कॉलेज के प्राफेसरों की तारीफ करते हुए कहा कि यहां प्रोफेसर यूजी, पीजी के छात्र-छात्राओं को पढ़ाने के साथ रिसर्च गतिविधियों को भी कराते हैं। जबकि विश्वविद्यालय में सिर्फ पीजी स्तर के छात्रों को पढ़ाने का काम होता है। निश्चित ही उनका यह कार्य कठिन परिश्रम को दर्शाता है। उन्होंने पूरे स्टाफ को इसके लिए बधाई दी।

एग्जाम सेल का किया निरीक्षण

टीम ने कॉलेज की एग्जाम सेल का भी निरीक्षण किया। पिछले चार सालों का परिणाम देखा। छात्रों के प्रवेश की स्थिति, परीक्षाएं आयोजित करने के बाद रिजल्ट जारी करने की पूरी जानकारी ली। एग्जाम सेल को देखकर टीम ने प्रशंसा की। इस दौरान टीम सदस्यों ने प्राचार्य डॉ.एल महोबिया सहित स्टॉफ डॉ.आरके कुररिया, प्रो.आरके श्रीवास्तव, डॉ.अरुण कक्कड़, डॉ.अंजली बाजपेयी, डॉ.शैलेंद्र श्रीवास्तव आदि से मुलाकात की। प्राचार्य एएल महोबिया ने बताया कि कॉलेज को पहले से ए ग्रेड प्राप्त है। हमे पूरी आशा है कि इस बार ए प्लस प्लस ग्रेड मिलेगा।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned