pitr paksh- अनूठे अंदाज में दी पितरों को श्रद्धांजलि, आमजनों के कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हुए अधिकारी

 नर्मदा से गंदगी हटाने में जुटे कलेक्टर, पुरोहित, स्थानीयजन, श्रमदान के बाद पुरोहितों के साथ लगाई चौपाल

By: deepak deewan

Published: 11 Sep 2017, 08:22 AM IST

जबलपुर। पितृ पक्ष में तर्पण करनेे नर्मदा घाटों पर जा रहे लोग रोज निराश होकर लौटते थे। नर्मदा में पानी बहुत कम है और गंदगी अथाह। आचमन करने तक में लोग कतराते थे। नर्मदा और घाटों की ऐसी स्थिति बदलने के लिए अंतत: लोग एकजुट हुए। आमजन और अधिकारियों- सब ने कंधे से कंधा मिलाकर यहां पसरी गंदगी को हटाकर अपने पितरों को अनूठे अंदाज में तर्पण किया।

सभी करें सफाई
नर्मदा सभी की आस्था का केन्द्र है। तट पर कीचड़ और गंदगी ज्यादा हो गई है। गंदगी हटाने में सहभागिता सबकी जिम्मेदारी है। हर कोई अपने स्तर पर पहल करे। उक्त बातें कलेक्टर महेशचन्द्र चौधरी ने रविवार को ग्वारीघाट में लगाई चौपाल में कहीं। उन्होंने नगर निगम के अमले को निर्देशित किया कि पूजन सामग्री डस्टबिन में रखवाने के लिए सभी पुरोहितों को एक-एक डस्टबिन उपलब्ध कराएं। इससे पूर्व सुबह ८.३० बजे से उन्होंने निगम सफाईकर्मियों, होमगार्ड की टीम व स्थानीयजनों को साथ लेकर नाव से सफाई अभियान चलाया।


मशीनों पर विचार
कलेक्टर चौधरी ने चौपाल के दौरान पुरोहितों व निगम के अमले से तटों की सफाई के लिए हर संभव प्रयास को लेकर चर्चा की। उन्होंने तटों में मशीन उतारकर कीचड़ हटाने पर भी चर्चा की।‘पत्रिका’ ने मुद्दा उठाया था कि पूर्व में भी जब कम बारिश के कारण ग्वारीघाट में गंदगी उभर आई थी तब जिला प्रशासन ने बड़ी पोकलेन मशीनों से कीचड़ हटवाया था।


स्थाई भंडारा स्थल
ग्वारीघाट में त्योहारों के अलावा आम दिनों में भी भंडारों का आयोजन होता है। अक्सर लोग दोना-पत्तल, डिस्पोजल कहीं भी फे क देते हैं। ये कचरा नदी में पहुंच जाता है। इसे ध्यान में रखते हुए चौपाल में नवग्रह मंदिर के पीछे स्थाई भंडारा स्थल बनाने को लेकर भी चर्चा की। इसके अलावा कहीं और भंडारा की अनुमति नहीं होना चाहिए। चौपाल में पुरोहित बद्री प्रसाद अवस्थी, कृष्ण कुमार दुबे, मुरलीधर दुबे, विजय तिवारी, लखन सोलपुरकर, बसंत शुक्ला, अभिषेक मिश्रा, सत्येन्द्र दुबे, आशीष कालवे, निगम उपायुक्त राकेश अयाची शामिल रहे।

deepak deewan
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned