पेशवाई के साथ मां नर्मदा गोकुम्भ का आगाज आज, दुनिया भर के सिद्ध संत होंगे शामिल

संस्कारधानी की पावन धरा पर दुनियाभर से संतों व श्रद्धालुओं का आगमन

By: Lalit kostha

Published: 24 Feb 2020, 10:43 AM IST

जबलपुर। संस्कारधानी की पावन धरा पर सोमवार को प्रमुख अखाड़ों की पेशवाई के साथ मां नर्मदा गोकुम्भ का आगाज होगा। दुनियाभर से प्रमुख संत आयोजन में शामिल होंगे। पावन तट ग्वारीघाट भव्य नर्मदा कुम्भ के आयोजन के लिए सज गया है। रोशनी से दैदीप्यमान कुम्भ स्थल की खूबसूरती देखते ही बन रही है। हवन कुं ड से लेकर यज्ञशाला तैयार है। आयोजन स्थल को 10 खंडों में आकर्षक स्वरूप दिया गया है। दोपहर दो बजे नरसिंह मंदिर से पेशवाई शुरू होगी। साधु, संत अखाड़े के निशान के साथ शामिल होंगे। पेशवाई में ऊं ट, हाथी, घोड़े, आकर्षक पालकी, बैंड दल, भील डांस, ढोल, डमरू दल, बग्घी सबके आकर्षण का केंद्र होंगे।

kumbh_01.jpg

तीन मार्च को शाही स्नान में साधु-संत व श्रद्धालु पुण्य की डुबकी लगाएंगे। कुम्भ स्थल में श्रीराम महायज्ञ, रुद्र महायज्ञ, नर्मदा महायज्ञ, गौपुष्टि महायज्ञ की तैयारियां भी पूरी कर ली गई हैं। कुम्भ में जूना अखाड़ा, निर्मल अखाड़ा, वैष्णव अखाड़ा शामिल होंगे। कुम्भ में गोपुष्टि यज्ञ का आयोजन किया जाएगा। संतों का कहना है नर्मदा व जीवन रक्षक गोवंश की देश को आवश्यकता है। तीन मार्च तक चलने वाले आयोजन में नर्मदा मैया धारा को निर्मल व निर्बाध बनाए रखने के साथ ही गोमाता के संरक्षण को लेकर मंथन करने संतों का समागम होगा। इसीलिए आयोजन को मां नर्मदा गोकुम्भ का नाम दिया गया है।

kumbh_04.jpg

नर्मदा महाकुम्भ में रहेगी सख्त सुरक्षा व्यवस्था

-40 राजपत्रित अधिकारी और 1000 का रहेगा बल, 06 अस्थाई थाने और 10 घाट बने

नर्मदा गोकुम्भ की तैयारियां अंतिम चरण में हैं। नौ दिन कुम्भ नगरी में भक्तों का तांता लगा रहेगा। यहां सुरक्षा के लिए सख्त व्यवस्था रहेगी। चप्पे-चप्पे पर पुलिस बल तैनात रहेगा। नौ स्थानों पर पार्किंग व्यवस्था रहेगी। वहीं आयुर्वेद कॉलेज अस्पताल में एलोपैथी इलाज भी मिलेगा।

-6 अस्थाई थाने बनेंगे
कुम्भ में जिला पुलिस की ओर से 1000 पुलिस कर्मियों की तैनाती की जाएगी। परिसर क्षेत्र में छह अस्थाई थाने बनाए जा रहे हैं। इससे यहां आने वालों श्रद्धालुओं को हर तरह की सहायता मिलेगी।

-15 स्थानों पर पार्किंग
यातायात व्यवस्था व्यवस्थित रखने के लिए 200 पुलिस कर्मी यातायात व्यवस्था सम्भालेंगे। दो पहिया और चार पहिया के साथ बसों के लिए कुल 15 पार्किंग स्थल बनाए जा रहे हैं। रामपुर तिराहे से किसी भी भारी वाहन को प्रवेश की अनुमति नहीं रहेगी। अधिक भीड़ होने पर चार पहिया व दो पहिया वाहनों का प्रवेश भी रोक दिया जाएगा।

 

kumbh_02.jpg
Lalit kostha Desk
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned