Navratri 2017- इस शहर में प्राचीन देवी मंदिर, मान्यता ऐसी कि बिना ठहरे आगे नहीं बढ़ती कोई ट्रेन, जानिए क्या है कारण

Premshankar Tiwari

Publish: Sep, 16 2017 07:09:06 (IST) | Updated: Sep, 16 2017 07:11:05 (IST)

Jabalpur, Madhya Pradesh, India
Navratri 2017- इस शहर में प्राचीन देवी मंदिर, मान्यता ऐसी कि बिना ठहरे आगे नहीं बढ़ती कोई ट्रेन, जानिए क्या है कारण

रेलवे ने 34 सुपरफास्ट सहित दर्जनों ट्रेनों को रोकने के आदेश ही जारी कर दिए

जबलपुर। इलाहबाद-जबलपुर मार्ग पर एक शहर है मैहर। यहां पहाड़ी पर मां शारदा देवी का प्रसिद्ध मंदिर है। नवरात्र में मां शारदा देवी के दरबार में मेला लगता है। दूर-दराज से लाखों श्रृद्धालु प्रतिदिन मां के दर्शन के लिए मैहर पहुंचते है। ऐसे में श्रृद्धालुओं की सुविधा व्यवस्था के लिए रेल प्रशासन ने अभी से तैयारियां शुरू कर दी है। पश्चिम मध्य रेल ने मां शारदा देवी के दर्शन को आसान बनाने के लिए 34 सुपरफास्ट ट्रेनों को नवरात्र में मैहर रेलवे स्टेशन पर रोकने का निर्णय किया है। ये सभी ट्रेनें 21 सितंबर से 5 अक्टूबर के बीच मैहर स्टेशन में रूकेंगी। इसमें अधिकांश लंबी दूरी की ट्रेनें शामिल है।
2 मिनट का स्टॉपेज
नवरात्र के दौरान मैहर होकर गुजरने वाली तकरीबन सभी ट्रेनों का मैहर स्टेशन में 2-2 मिनट का स्टॉपेज होगा। समस्त एक्सप्रेस और सुपरफास्ट ट्रेनें अप एंड डाउन दिशा पर मैहर स्टेशन में रूकेगी। मेले में भीड़ उमडऩे की संभावना के कारण रेलवे द्वारा अतिरिक्त टिकट काउंटर की भी व्यवस्था की जा रही है। इसके अलावा यात्रियों की संख्या के अनुसार प्लेटफॉर्म में पानी सहित अन्य सुविधाओं की पूर्ति सुनिश्चित करने के निर्देश दिए है।
पमरे की स्पेशल स्क्वाइड करेगी टिकट जांच
पमरे ने मेले में किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना न हो, इसके लिये सुरक्षा का पुख्ता इंतजाम किया गया है। वहीं मैहर मेले में भारी भीड़ उमडऩे के कारण भारी संख्या में पुलिस बल और टिकट चैकिंग कर्मियों की तैनाती कर दी गई है। पमरे से टीटीई का स्पेशल स्क्वाइड नवरात्र के दौरान मैहर में डेरा डालेगा। ये टीम सरप्राइज टिकट चेक करेगी। इसके अलावा रेलवे अस्पताल के चिकित्सकों और कुछ कर्मचारियों को भी यात्रियों को आवश्यक उपचार उपलब्ध कराने के लिए नवरात्र के दौरान मैहर स्टेशन में नियुक्त किया जा रहा है।
ट्रेनों में लगेगा एक्स्ट्रा कोच
रविवार को जबलपुर से सोमनाथ के बीच चलने वाली वैरावल एक्सप्रेस तथा सोमवार को हबीबगंज से गया को जाने वाली स्पेशल ट्रेन में शयनयान श्रेणी का एक-एक अतिरिक्त कोच लगाया जाएगा। इसी तरह मैहर मेले में यात्रियों की आवाजाही को आसान बनाए जाने के लिये जबलपुर-रीवा के बीच चलने वाली पैसेंजर ट्रेन में 21 सितम्बर से 5 अक्टूबर के बीच 2 सामान्य श्रेणी के कोच लगाए जाएंगे।

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned