scriptnaxal attack at soldiers, vehicle save his life | नक्सली सैनिकों पर नहीं कर पाएंगे जानलेवा अटैक, यहां बन रहे विशेष वाहन | Patrika News

नक्सली सैनिकों पर नहीं कर पाएंगे जानलेवा अटैक, यहां बन रहे विशेष वाहन

महाराष्ट्र में नक्सलियों से निपटेगा वीएफजे का एमपीवी, सुरंगरोधी वाहन का इस्तेमाल करेगी महाराष्ट्र पुलिस

 

जबलपुर

Published: September 17, 2019 11:47:20 am

जबलपुर/ नक्सल प्रभावित इलाकों में सुरंगरोधी वाहन की उपयोगिता बढ़ रही है। इसलिए सेना के साथ अलग-अलग राज्यों की पुलिस और अर्धसैनिक बल इसे सुरक्षा का बड़ा हथियार बना रहे हैं। महाराष्ट्र पुलिस भी पहले से नक्सल प्रभावित इलाकों में इसका इस्तेमाल कर रही है। इसलिए करीब ढाई दर्जन वाहन वीकल फैक्ट्री (वीएफजे) से मांगे थे। उसे आठ वाहन मिल गए हैं। जल्द ही सेना के लिए भी डिस्पैच का काम शुरू होगा।

naxal attack
naxal attack

वीएफजे में सुरंगरोधी वाहन (एमपीवी) का उत्पादन लम्बे समय से हो रहा है। बीच में रॉ मटेरियल नहीं होने से उत्पादन ठप था। खासकर सेना के लिए बनाए गए मॉडल में मॉडिफिकेशन के कारण उत्पादन रफ्तार नहीं पकड़ पाया। अभी बड़ी संख्या में हल (ढांचा) बनाए गए हैंं। अब उन्हें कम्पलीट वाहन की शक्ल देने का काम शुरू होना है। इससे पहले महाराष्ट्र पुलिस को इसकी सप्लाई तेज की गई है। अगस्त और सितम्बर लगातार दो माह में करीब आठ वाहन भेजे गए हैं।

mine protected vehicle
IMAGE CREDIT: gyani rajak

विस्फोट में भी सैनिक सुरक्षित
इस वाहन की खासियत यह है कि यदि नक्सली या आतंकी जमीन में 14 किलो तक बारूद बिछा दें और वाहन उस पर गुजर जाए, तब भी उसमें बैठे जवान सुरक्षित रहते हैं। वाहन में शक्तिशाली आर्मर्ड प्लेट के साथ ही बुलेटपू्रफ कांच लगा होता है। इसका ज्यादा इस्तेमाल गश्ती के लिए होता है। दुश्मन पर जवाबी हमले के लिए इस वाहन में फायरिंग के लिए भी जगह दी गई है।

तीन प्रकार के ग्राहक

इस वाहन का मूलत: उपयोग सेना करती है। वीएफजे के पास 250 से ज्यादा वाहनों का ऑर्डर केवल सेना की तरफ से मिला है। इसी प्रकार अर्धसैनिक बल जैसे बीएसएफ, सीआरपीएफ, छत्तीसगढ़ और महाराष्ट्र पुलिस वाहन के ग्राहक हैं। लगभग हर साल इनकी मांग फैक्ट्री भेजी जाती है। लेकिन, इसमें उपयोग होने वाले मटेरियल कई बार आसानी से नहीं मिलता। इसलिए उत्पादन उतनी तीव्र गति से नहीं होता।


सुरंगरोधी वाहन का उत्पादन तेज कर रहे हैं। सेना के साथ राज्य पुलिस को इसकी सप्लाई की जानी है। हाल में महाराष्ट्र पुलिस को आठ वाहन सुपुर्द किए गए हैं।
- एके राय, जनसम्पर्क अधिकारी, वीएफजे

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

Monsoon Alert : राजस्थान के आधे जिलों में कमजोर पड़ेगा मानसून, दो संभागों में ही भारी बारिश का अलर्टमुस्कुराए बांध: प्रदेश के बांधों में पानी की आवक जारी, बीसलपुर बांध के जलस्तर में छह सेंटीमीटर की हुई बढ़ोतरीराजस्थान में राशन की दुकानों पर अब गार्ड सिस्टम, मिलेगी ये सुविधाधन दायक मानी जाती हैं ये 5 अंगूठियां, लेकिन इस तरह से पहनने पर हो सकता है नुकसानस्वप्न शास्त्र: सपने में खुद को बार-बार ऊंचाई से गिरते देखना नहीं है बेवजह, जानें क्या है इसका मतलबराखी पर बेटियों को तोहफे में देना चाहता था भाई, बेटे की लालसा में दूसरे का बच्चा चुरा एक पिता बना किडनैपरबंटी-बबली ने मकान मालिक को लगाई 8 लाख रुपए की चपत, बलात्कार के केस में फंसाने की दी थी धमकीराजस्थान में ईडी की एन्ट्री, शेयर ब्रोकर को किया गिरफ्तार, पैसे लगाए बिना करोड़ों की दौलत

बड़ी खबरें

SCO समिट में पीएम मोदी के साथ पाकिस्तान के प्रधानमंत्री की हो सकती है बैठककर्मचारियों के हेल्थ को ध्यान में रखते हुए, CJI एनवी रमना ने वकीलों को मास्क पहनने की दी सलाहCoal Scam: कोयला घोटाले मामले में ED ने पश्चिम बंगाल के 8 आईपीएस ऑफिसर को जारी किया समनजम्मू-कश्मीर के रामबन में लैंडस्लाइड व बादल फटने से दो लोगों की मौत, हिमाचल के कुल्लू में कई दुकानें बहींVP Jagdeep Dhankhar: 'किसान पुत्र' जगदीप धनखड़ ने ली उपराष्ट्रपति पद की शपथ, झुंंझुनू सहित पूरे राजस्थान में जश्न का माहौलMaharashtra: महाराष्ट्र में स्टील कारोबारी पर इनकम टैक्स का छापा, करोड़ों रुपये कैश सहित बेनामी संपत्ति जब्तJammu-Kashmir: उरी जैसे हमले की बड़ी साजिश हुई फेल, Pargal आर्मी कैंप में घुस रहे 3 आतंकी ढेरChinese Mobile Ban: भारत बैन करने वाला है चीनी मोबाइल? चीन ने भारत से की ऐसी मांग, सुनकर आप हो जाएंगे हैरान!
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.