पीएम आवास के नाम पर ये नेता खुलेआम मांग रहा रिश्वत- देखें वीडियो

पीएम आवास के नाम पर ये नेता खुलेआम मांग रहा रिश्वत

By: Lalit kostha

Updated: 16 May 2018, 12:03 PM IST

कटनी. साहब, किसी तरह झोपड़-पट्टी बनाकर रह रहे थे। पीएम आवास के नाम पर उनके घरौंदों को ढहा दिया गया है। पक्के मकान के सपने दिखाकर एक किस्त पंचायत द्वारा दे दी गई है, लेकिन अब दूसरी किस्त के लिए सरपंच, सचिव के चक्कर काट रहे हैं। यह कहना था इमलाज गांव के गरीबों का। हितग्राहियों का आरोप है कि सरपंच और उसके पुत्र द्वारा दूसरी किस्त दिलाने के लिए अवैध रुपयों की मांग की जा रही है। गरीबों ने कलेक्टर से गुहार लगाकर कार्रवाई करने मांग की है।

about-

आवास के नाम पर ढहा दिए आशियाने, अब रुपए दिलाने मांगी जा रही लाखों रुपए की रिश्वत
जनपद पंचायत रीठी के इमलाज ग्राम पंचायत का मामला, पीडि़तों ने कलेक्टर से लगाई मदद की गुहार
पीएम आवास के नाम पर मांग जा रही रिश्वत
कलेक्टर को ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम पंचायत इमलाज जनपद रीठी के दो दर्जन से अधिक लोगों का चयन पीएम आवास के लिए हुआ है। पहली किस्त २५-२५ हजार मिल गए हैं। जिसमें वे मेहनत-मजदूरी का प्लंथ तक का काम कर चुके हैं। सरपंच व उसके पुत्र बलराम सोनी जो कि वर्तमान में बडग़ांव का सचिव है वह दबंगई दिखाते हुए हर हितग्राही से १० हजार रुपए की मांग कर रहा है। सचिव कहता है कि १०-१० हजार रुपए दोगे तभी दूसरी किस्त जारी कराई जाएगी। इस संबंध में कई बार रीठी जनपद पंचायत के सीइओ से भी शिकायत कर चुके हैं, लेकिन कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस पर हितग्राहियों का आरोप है कि सीइओ की सांठगांठ से यह मनमानी की जा रही है। सचिव द्वारा कह दिया जाता है कि भोपाल से राशि होल्ड कर दी गई है और नोटिस दिया जा रहा है।

read more-

इमरती सा महका तालाब, श्रमदानियों का बढ़ा उत्साह- देखें वीडियो

गजब! बैंक में चोरी करने घुसे चोरों ने चिट्ठी लिखकर पूछा कहां रखा है कैश

जबलपुर में 65 लाख की डकैती, सिंघम फिल्म की तर्ज पर डकैतों तक पहुंची पुलिस

Lalit kostha Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned