scriptNiwadganj buzzes as soon as the city closes | शहर बंद होते ही निवाडग़ंज गुलजार | Patrika News

शहर बंद होते ही निवाडग़ंज गुलजार

रात होते ही सडक़ पर भारी वाहनों की कतार, दुर्घटना का खतरा

जबलपुर

Published: March 07, 2022 09:51:33 pm

जबलपुर. जब रात में शहर बंद हो जाता है तो निवाडग़ंज के गोदाम गुलजार हो रहे हैं। इससे सडक़ पर पूरा कारोबार शुरू हो जाता है। सडक़ पर वाहनों की कतार से अन्य वाहनों को निकलने के लिए मात्र आठ फीट की जगह बचती है। एेसे हालात में रात के समय गुजरने वाले दुर्घटना की चपेट में आ सकते हैं। इस दौरान निगरानी के लिए पुलिस की कोई व्यवस्था नहीं रहती है।
बल्देवबाग से लेकर निवाडग़ंज तक, बल्देवबाग से चेरीताल मोड़ और बल्देवबाग से उखरी तक करीब एक सैकड़ा गोदाम हैं। इन गोदामों में परचून की सामग्री आती और जाती है। इसके लिए रात के समय ही इन जगहों पर भारी वाहन पहुंच रहे हैं, जिससे इन जगहों पर यातायात प्रभावित होता है। इसके लिए प्रशासन ने मनमोहननगर ट्रांसपोर्ट नगर बनाया है लेकिन प्रशासनिक उदासीनता के चलते मनमोहन नगर में यह कारोबार शुरू नहीं किया जा सका है, जबकि मनमोहननगर में ट्रांसपोर्ट व्यावसायियों को जगह भी आवंटित की गई थी।
सडक़ पर नहीं बचती है जगह
बल्देवबाग से निवाडग़ंज सडक़ एेसा मार्ग है, जिस पर रात भर ट्रैफिक रहता है। इसकी वजह यह है कि यह सडक़ स्टेशन और जिला अस्पताल को जोड़ता है। आलम यह है कि इस सडक़ के दोनों ओर भारी वाहनों की कतार लग जाती है, जिससे यहां अन्य वाहनों के निकलने की जगह नहीं बचती है।
आड़े खड़े हो रहे गोदाम
इस जगह पर माल की लोडिंग और अनलोडिंग के लिए सडक़ पर आड़े ट्रक खड़े हो जाते हैं, जिससे सडक़ पर आधे से ज्यादा हिस्सा भारी वाहन का होता है। यही आलम सडक़ की दूसरी ओर होने की वजह से सडक़ पर मात्र आठ फीट की जगह बचती है। कई बार तो यह हालत हो जाती है कि सडक़ पर कुछ ही जगह रहती है, जिससे दो पहिया ही वाहन निकल सकते हैं।
गलियों में गोदाम, सडक़ पर लोडिंग
जानकारों का कहना है कि यहां गलियों में गोदाम हैं। इस जगह तक वाहन नहीं पहुंच पाते हैं। लिहाजा सडक़ पर ही वाहन खड़े किए जा रहे हैं, जिसमें रात भर लोडिंग-अनलोडिंग की जाती है। एेसे हालात में कई बार वजनी सामान के सडक़ पर गिरने का खतरा रहता है।
सडक़ तक बंडललोडिंग के दौरान कई बार सडक़ तक भारी सामानों के बंडल पहुंच जाते हैं। इससे अन्य वाहनों के निकलने की जगह नहीं बचती है। शेष जगह पर भारी वाहनों का कब्जा रहता है। जानकार कहते हैं कि रात होते ही सडक़ पर सामग्री फैला दी जाती है, जिससे सडक़ से गुजरने वाले वाहन चालक फंस जाते हैं।
ट्रांसपोटनगर का मकसद फेल
प्रशासनिक प्रयास के तहत बनाए गए ट्रांसपोर्टनगर का मकसद फेल हो रहा है। प्रशासन की कोशिश यह थी कि शहर से बाहर एक प्लेटफॉर्म दिया जाएगा, जिससे असमय होने वाली असुविधाएं दूर हो सके। इसके लिए ट्रांसपोर्टनगर बनने के बाद वहां ट्रांसपोर्ट व्यावसाय शुरू भी किया गया था लेकिन उसके बाद यह पुन: वापस लौट आया है। सूत्रों ने बताया है कि व्यावसायियों ने ट्रांसपोर्टनगर में व्यावसाय न करके गोदाम किराए से दे रही हैं।
हालात पर एक नजर-
- बल्देवबाग से मात्र 50 फीट से लेकर निवाडग़ंज तक ट्रकों की कतार थी।
- पुराने पोस्ट ऑफिस के सामने आड़ा करके ट्रकों को खड़ा किया गया था।
- संजय गांधी मार्केट के सामने तीन ट्रक आड़े खड़े थे।
- पांडे चौक के पास सडक़ पर वाहनों में लोडिंग की जा रही थी।
- पांडे चौक के पास सडक़ पर बंडल थे।
- पोस्ट ऑफिस के सामने सडक़ आठ फीट बची थी।
निवाडग़ंज के गोदाम गुलजार
जब रात में शहर बंद हो जाता है तो निवाडग़ंज के गोदाम गुलजार हो रहे हैं। इससे सडक़ पर पूरा कारोबार शुरू हो जाता है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

नाम ज्योतिष: ससुराल वालों के लिए बेहद लकी साबित होती हैं इन अक्षर के नाम वाली लड़कियांभारतीय WWE स्टार Veer Mahaan मार खाने के बाद बौखलाए, कहा- 'शेर क्या करेगा किसी को नहीं पता'ज्योतिष अनुसार रोज सुबह इन 5 कार्यों को करने से धन की देवी मां लक्ष्मी होती हैं प्रसन्नइन राशि वालों पर देवी-देवताओं की मानी जाती है विशेष कृपा, भाग्य का भरपूर मिलता है साथअगर ठान लें तो धन कुबेर बन सकते हैं इन नाम के लोग, जानें क्या कहती है ज्योतिषIron and steel market: लोहा इस्पात बाजार में फिर से गिरावट शुरू5 बल्लेबाज जिन्होंने इंटरनेशनल क्रिकेट में 1 ओवर में 6 चौके जड़ेनोट गिनने में लगीं कई मशीनें..नोट ढ़ोते-ढ़ोते छूटे पुलिस के पसीने, जानिए कहां मिला नोटों का ढेर

बड़ी खबरें

लालू यादव पर फिर शिकंजा, सीबीआई ने राजद सुप्रीमो से जुड़े 17 ठिकानों पर मारा छापाRoad Rage Case: आज पटियाला में सरेंडर करेंगे नवजोत सिंह सिद्धू, SC ने सुनाई है एक साल की सजाAzam Khan Release: दो साल बाद जेल से रिहा हुए आजम खान, दोनों बेटों ने किया रिसीव, शिवपाल भी पहुंचेGyanvapi Masjid Row: ज्ञानवापी मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई आज, हिंदू-मुस्लिम पक्ष रखेंगे अपने-अपने तर्कExclusive: ज्ञानवापी सर्वे रिपोर्ट से मंदिर-मस्जिद के सबूतों का नया अध्याय, जानें क्या है इन सर्वे रिपोर्ट मेंJammu Kashmir: रामबन में जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर निर्माणाधीन सुरंग का एक हिस्सा ढहा, 7 लोग फंसे, रेस्क्यू ऑपरेशन जारीभाजपा राष्ट्रीय पदाधिकारी बैठक: नड्डा ने दिया एकजुटता का संदेश, आज पीएम मोदी बताएंगे जीत का फॉर्मूलाWeather Update: गर्मी से जल्द मिलेगी राहत, इन राज्यों में होगी बारिश, IMD का अलर्ट
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.