ajab gajab: नोटों को डबल कर देता है ये भूत, ऐसे सामने आया दिलचस्प मामला

ajab gajab: नोटों को डबल कर देता है ये भूत, ऐसे सामने आया दिलचस्प मामला
नोट डबल करने वाले भूतों का हैरतअंगेज मामला

Prem Shankar Tiwari | Publish: Dec, 25 2018 12:19:07 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

नोट डबल करने वाले भूतों का हैरतअंगेज मामला

जबलपुर। तीन ऐसे भूत थे, जो लोगों की रकम को दोगुनी कर देते थे। इन भूतों के किस्से हर तरफ चर्चाओं में थे। अंत में यह दिलचस्प मामला एमपी हाईकोर्ट में पहुंचा। मप्र हाईकोर्ट ने तीन तथाकथित भूतों को जमानत भी दे दी। भूतों की पेशी और जमानत दोनों ही मसले कोर्ट में लोगों की जुबान पर रहे। कई लोग तो खासतौर पर इन तथाकथित भूतों को देखने मात्र के लिए कोर्ट पहुंच गए। अधिवक्ताओं ने भी इनका जमकर लुत्फ उठाया। दरअसल पूरा मामला नोटों पर आधारित था। कथितकथित आरोपियों पर भूत बनकर नोट डबल करने का लालच देते हुए धोखाधड़ी करने का आरोप था।

जज साहब भी हुए हैरान
भूत बनकर नोट डबल करने का मामला जब एमपी हाईकोर्ट में पहुंचा तो एक बारगी जज साहब भी हैरान रह गए। जस्टिस राजेंद्र कुमार श्रीवास्तव की सिंगल बेंच के समक्ष जब यह बात आई कि आरोपी भूत हैं, तो कोर्ट में मौजूद सभी अधिवक्ता हैरत में पड़ गए। सुनवाई पूरी होने पर स्थिति स्पष्ट होने पर पता चला कि मामला ठगी का है।

भूत को दिया रुपयों से भरा बैग
अभियोजन के अनुसार आदेगांव जिला सिवनी निवासी नरेश मसकोले ने रिपोर्ट दर्ज कराई थी कि बाजार में उसे एक व्यक्ति ने उससे कहा कि वह नोट डबल करना जानता है। लालच में नरेश उसके साथ सुनसान जगह पर गया। करीब एक घंटे पूजा करने के बाद एक भूत दिखा। उस व्यक्ति ने भूत को रुपए से भरा बैग दिया। भूत ने उसे नोट डबल करके दे दिए और अदृश्य हो गया। इस दृश्य को देखकर 12 जुलाई 2018 को वह एक लाख 51 हजार रुपए लेकर उस व्यक्ति के साथ फि र वीरान जगह पर गया। पूजा करने के बाद नोटों से भरा बैग उसने भूत को दे दिया ।

फिर नहीं लौटा भूत
नरेश के अधिवक्ता ने बताया कि नरेश भूतों को रुपया देने के बाद उनका इंतजार करता रहा। उसे उम्मीद थी कि रुपयों को डबल करके भूत जल्द ही वापस आ जाएगा लेकिन वह लौटकर नहीं आया। इसके बाद मामला पुलिस के पास पहुंचा। नरेश ने थाने में एफआईआर दर्ज कराकर पुलिस से मामलें की जांच की मांग की।

सामने आया ये राज
शिकायतकर्ता नरेश के मामले की जांच के आधार पर पुलिस ने उसके गांव के ही भागचंद चौकसे, गणेश गोसाई और गुट्टूलाल गोसाई को हिरासत में लिया। उनसे कड़ाई से पूछताछ की गई तो चौंकाने वाला सच सामने आया। यह बात खुलकर सामने आई कि भागचंद चौकसे, गणेश गोसाई और गुट्टूलाल गोसाई ने ही भूत और भूतों के द्वारा रुपए डबल करने के ड्रामे की व्यूहरचना रची थी। उन्होंने ही नरेश को मोहजाल में फांसकर यह भरोसा दिला दिया था कि भूत पैसों को डबल कर देता है। नरेश के द्वारा डबल करने के नाम पर भूत के लिए छोड़े गए रुपयों को इन्हीं तीनों ने मिलकर हड़प लिया। पुलिस ने भागचंद चौकसे, गणेश गोसाई और गुट्टूलाल गोसाई को धारा 420 और 120 बी के तहत 30 सितंबर को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। इन्हीं तीनों को वह भूत बताया जा रहा था, जो रुपयों को डबल कर देते थे। ये पिछले काफी समय से जेल में ही बंद थे।

भूतों को मिली जमानत
तीनों पेशी पर आए तो अधिवक्ताओं ने उनका जमकर आनंद लिया। अधिवक्ता जयंत नीखरा ने तर्क दिया कि शिकायतकर्ता भी गलत मंशा से नोट डबल कराना चाहता था। उसकी भी नीयत साफ नहीं थी। इसलिए सुनवाई के बाद न्यायालय ने तीनों आरोपियों को जमानत पर रिहा करने के निर्देश दिए। इन्हीं तीनों को भूत मानकर लोग देखने के लिए भी पहुंच गए थे।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned