अब जबलपुर से भी सफर का श्रीगणेश...12 शहरों के लिए दौड़ीं बसें

आइएसबीटी में करीब साढ़े पांच माह बाद लौटी रौनक, करीब 200 यात्रियों ने किया सफर

By: govind thakre

Published: 07 Sep 2020, 08:41 PM IST

जबलपुर. साढ़े पांच माह बाद कोराना संक्रमण के बीच सोमवार को आइएसबीटी से दोपहर 12 बजे के बाद बसों का संचालन शुरू हो गया। जबलपुर से 16 बसें चलने से लोगों को भी राहत मिली। पहले दिन करीब 200 यात्रियों ने सफर किया। बस शुरू करने के पहले सुरक्षा के सभी इंतजाम किए गए थे। यात्रियों को भी मास्क लगाकर बैठने की हिदायत दी जा रही थी। हड़ताल के बीच पहला दिन होने के कारण यात्रियों की संख्या जरूर कम थी लेकिन उम्मीद की जा रही है कि बस संचालन शुरू होने से रफ्तार पकड़ेगी।
12 रूटों पर चली बसें
पहले दिन करीब 12 रूटों पर बसें शुरू की गई। इनमें डिंडौरी, कटनी, दमोह, छतरपुर, सागर, अमरकंटक, मंडला के लिए बसें गईं। स्थानीय ग्रामीण क्षेत्रों में शहपुरा, चरगवां, कुंडम, बघराजी, सिहोरा रूटों पर भी कुछ बसों का संचालन किया गया। यहां फिलहाल एक-एक बस संचालित की गई।
पहले दिन कम मिले यात्री
लंबे समय बाद शुरू हुईं बसों के पहले दिन यात्रियों की संख्या कम रही। हर बस में करीब 10 से 12 यात्री रहे। कुछ बसों में 6 से 7 यात्री रवाना हुए। कम यात्रियों की एक वजह यह भी है कि बसें शुरू होने की सूचना यात्रियों को नहीं थी। बस संचालकों का कहना है पूरी सुरक्षा व्यवस्था के साथ बसों का संचालन कर रहे हैं। डिंडोरी रोड पर करीब 12 से 13 और अमरकंटक रूट पर 15 से 20 यात्रियों ने पहले दिन सफर किया।
वर्जन
बसें संचालित कर दी हैं। पहले दिन यात्री बेहद कम थे। हमारी मांग है कि डीजल के बढ़े रेट कम किए जाएं ताकि खर्चा आदि निकाला जा सके। यदि ये संभव नहीं है तो किराया बढ़ाने अनुमति दी जाए।
नसीम बेग, सदस्य, जबलपुर बस ऑपरेटर एसोसिएशन

Show More
govind thakre Editorial Incharge
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned