Nurse commits suicide:लॉकडाउन में जबलपुर में नर्स ने की आत्महत्या, कमरे से नींद की गोली व इंजेक्शन के रैपर जब्त

शहर के निजी अस्पताल में थी नर्स, सरस्वती कॉलोनी में किराए के मकान में रह रही थी

 

By: santosh singh

Updated: 07 May 2020, 11:20 AM IST

जबलपुर। कोतवाली थानांतर्गत सरस्वती कॉलोनी में किराए से रह रही 23 वर्षीय नर्स की लाश बंद कमरे में पलंग पर मिलने से सनसनी फैल गई। नर्स की मौत कैसे हुई, यह अभी स्पष्ट नहीं हो सका। सुबह सात बजे वह उसे देखा गया था। सुबह सवा नौ बजे के लगभग अस्पताल का स्टाफ उसे बुलाने आया तो दरवाजा नहीं खुला। इसके बाद मकान मालिक की मौजूदगी में दरवाजा तोड़ा गया, तब लोगों को इसकी जानकारी हुई। पुलिस ने नर्स के परिवारजन को खबर देते हुए शव को पीएम के लिए भेज दिया।
अनूपपुर अमलाई की रहने वाली थी नर्स-
पुलिस के अनुसार सुबह 9.30 सूचना मिली कि सरस्वती कॉलोनी में गार्डन के आगे भरत प्यासी के घर में किराए से रहने वाली 23 वर्षीय नीलम मिश्रा कमरे में मृत पड़ी है। पुलिस के मुताबिक नीलम मूलत: अनूपपुर अमलाई की रहने वाली है, जो शहर के शैल्बी हॉस्पिटल में नर्स का काम करती थी। छह महीने से वह भरत प्यासी के मकान में रह रही थी। नीलम की रात आठ बजे तक सहेलियों व सहकर्मियों से मोबाइल पर बातचीत हुई। तब तक वह ठीक थी।
सुबह सात बजे उसे लोगों ने देखा
सुबह करीब सात बजे भी उसे देखा गया। इसके बाद उसने फिर से दरवाजा बंद कर लिया। सवा नौ बजे के लगभग अस्पताल से सहकर्मी पहुंचे तो दरवाजा बंद मिला। आवाज देने और मोबाइल पर कॉल करने के बाद भी अंदर से कोई जवाब नहीं मिला। संदेह पर सहकर्मियों ने भरत प्यासी को बुलाया और दरवाजा तोड़ा। अंदर पहुंचे तो नीलम बिस्तर पर मृत पड़ी थी।

suicide.jpg
IMAGE CREDIT: patrika

नर्स के सिर में रहता था दर्द, खाती थी नींद की गोली
एएसआई संतराम बागरी ने बताया कि प्रारम्भिक पूछताछ में पता चला कि उसके सिर में दर्द रहता था। इसके लिए वह नींद की गोली लेती थी। बिस्तर के पास नींद की गोली व एक इंजेक्शन का रैपर मिला है। पिता दयाशंकर मिश्रा को खबर दे दी गई है। वह लोग रवाना हो गए हैं। पीएम रिपोर्ट में ही मामला स्पष्ट हो सकेगा।
कोरोना को लेकर सशंकित हो गए थे लोग-
नीलम की मौत के बाद स्थानीय लोग कोरोना को लेकर सशंकित हो गए थे। आलम ये था कि दरवाजा तोडऩे के बाद भी अंदर दाखिल होने की हिम्मत लोग नहीं कर पा रहे थे। कांग्रेस नेता अतुल वाजपेई ने कमरे को सैनिटाइज कराया। तब लोग अंदर पहुंचे। नीलम का शव कोरोना प्रोटोकाल का पालन करते हुए मेडिकल के मरचुरी में भिजवाया गया।

Show More
santosh singh
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned