दफ्तरों का होगा औचक निरीक्षण, अनुपस्थित मिले तो गाज

एमएलबी पहुंचे चीफ इंजीनियर

By: virendra rajak

Published: 22 May 2019, 09:13 PM IST

जबलपुर. बिजली उपभोक्ताओं की शिकायतों को नजर अंदाज कर रात के वक्त आराम फरमाने वाले अधिकारी-कर्मचारियों की अब खैर नहीं। क्योंकि आला अफसरों द्वारा कभी भी किसी भी कार्यालय का औचक निरीक्षण किया जाएगा। इस दौरान यदि कोई गड़बड़ी मिली या अफसर अनुपस्थित मिले, तो उन पर कार्रवाई की भी गाज गिरेगी। यह इसलिए किया जा रहा है, ताकि उपभोक्ताओं की शिकायतों का त्वरित निराकरण हो सके और अधिकारी-कर्मचारी प्रत्येक शिकायत को गम्भीरता से लें।
इसलिए होगा निरीक्षण
रात के वक्त अधिकतर अधिकारी-कर्मचारी या तो दफ्तर से नदारत रहते हैं या फिर सो जाते हैं। कई बार तो शिकायत मिलने के बाद भी कर्मचारी मौके पर नहीं जाते। इतना ही नहीं कई बार कह दिया जाता है कि टीम व्यस्त है, फ्री होते ही भेज दी जाएगी। एेसे में उपभोक्ताओं की शिकायतों का निराकरण नहीं हो पाता। कुछ समय पूर्व सभी सम्भागों के बिजली दफ्तरों में एसइ की तैनाती की गई थी। वे वर्तमान में वहां तैनात रहते हैं या फिर नहीं, इसका भी पता लगाया गया।

एमएलबी पहुंचे चीफ इंजीनियर, व्यवस्थाओं को देख
लोकसभा चुनाव की मतगणना गुरुवार सुबह से शुरू होगी। मतगणना ईवीएम और वीवीपेट के जरिए की जाएगी, एेसे में किसी भी प्रकार से विद्युत संबंधी समस्या न आए, इसके लिए विद्युत महकमा अलर्ट हो गया। बुधवार शाम जबलपुर संभाग के चीफ इंजीनियर प्रकाश दुबे मातहतों के साथ एमएलबी स्थित मतगणना स्थल पहुंचे। जहां उन्होंने एक-एक व्यवस्था की बारीकी से समीक्षा की। कितनी फेस की लाइन है और मतगणना कक्षों में विद्युत विभाग ने क्या व्यवस्थाएं की हैं, इसे भी देखा। उनके साथ अधीक्षण अभियंता आइके त्रिपाठी भी मौजूद थे, जिन्होंने जानकारी उपलब्ध कराई। चीफ इंजीनियर दुबे ने कहा कि बुधवार रात से ही वहां विद्युत अधिकारियों और कर्मचारियों की तैनाती कर दी गई है। जो मतगणना समाप्त होने और रिजल्ट आने के बाद तक तैनात रहेंगें। अधिकारियों और कर्मचारियों को शिफ्ट में तैनात किया गया है। चूंकि मतगणना रात तक चलेगी, इसलिए एमएलबी की बिल्डिंग के अंदर और परिसर में पर्याप्त विद्युत व्यवस्थाएं की गई हैं।
वर्जन
रात के वक्त सभी दफ्तरों का औचक निरीक्षण किया जाएगा। वहां शिकायतों और उनके निराकरण के समय की समीक्षा की जाएगी। किसी की गलती मिली या कोई गैर हाजिर मिला, तो उस पर कार्रवाई भी होगी।
- प्रकाश दुबे, चीफ इंजीनियर, जबलपुर सम्भाग

virendra rajak Reporting
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned