प्राकृतिक आपदा से निपटने हमारी तैयारियां बेहतर हों

प्राकृतिक आपदा से निपटने हमारी तैयारियां बेहतर हों
he collector asked all the departmental officials to keep an eye on the flood control and disaster management's preparedness in their area and availability of necessary equipment for relief and rescue.

Gyani Prasad | Publish: May, 31 2019 06:26:50 PM (IST) | Updated: May, 31 2019 07:45:58 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

कलेक्टर ने अधिकारियों से कहा नाव और मोटरवोट का करें इंतजाम

 

जबलपुर.बाढ़ एवं जलप्लावन की स्थिति से निपटने के लिए समय रहते सभी आवश्यक तैयारियां पूरी की जानी चाहिए। नाव, मोटरवोट तथा राहत एवं बचाव कार्य के लिए जरूरी सभी उपकरणों की जांच करवाएं और जरुरी हो तो उनकी मरम्मत भी कराई जानी चाहिए। हमारी तैयारियां जितनी अच्छी होंगी प्राकृतिक आपदाओं से होने वाले नुकसान को उतना ही कम कर सकेंगे। यह निर्देश कलेक्टर भरत यादव ने शुक्रवार को आयोजित राजस्व अधिकारियों की बैठक में दिए।

कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारियों को बाढ़ नियंत्रण और आपदा प्रबंधन के लिए उनके क्षेत्र में की जा रही तैयारियों पर तथा राहत एवं बचाव करने के लिए जरूरी उपकरणों की उपलब्धता पर नजर रखने कहा। उन्होंने सभी पुलिस थानों को ड्रेगन टार्च और रस्सा उपलब्ध कराने के निर्देश भी दिए। उन्होंने जबलपुर, सिहोरा, पाटन और कुंडम एसडीएम को उनके क्षेत्र के वन व्यवस्थापन और राजस्व, वन और सीमा विवाद के सभी प्रकरणों का समय सीमा निर्धारित कर निराकरण करने के निर्देश दिए हैं।

वन विभाग से बनाए समन्वय
कलेक्टर यादव ने ऐसे प्रकरणों के निराकरण के लिए वन विभाग के साथ समन्वय स्थापित करने की जरूरत भी बताई । उन्होंने वन व्यवस्थापन के प्रकरणों के निराकरण में एसडीएम की सहायता के लिए वन विभाग के कर्मचारियों के अनुभागवार दल गठित करने के निर्देश बैठक में मौजूद वन विभाग के अधिकारी को दिए। बैठक में सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को वन अधिकार पत्र प्राप्त पट्टाधारियों के जाति प्रमाण पत्र बनाने के लिए विशेष अभियान चलाने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों को नामांतरण, बंटवारा और सीमांकन के अविवादित प्रकरणों का तय समय सीमा के भीतर निराकरण करने की हिदायत दी।

जिम्मेदार बनें राजस्व अधिकारी
कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों से ज्यादा जिम्मेदारी से काम करने की अपेक्षा भी व्यक्त की। उन्होंने कहा कि राजस्व अधिकारियों को गरीब परिवारों एवं जरूरतमंदों को सहायता पहुंचाने के मामलों में स्व-प्रेरणा से काम करना होगा और तुरंत मदद दिलाने के प्रयास करने होंगे। कलेक्टर ने राजस्व अधिकारियों को न्यायालयीन कार्यों पर भी ज्यादा देने के निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि राजस्व अधिकारी निर्धारित दिन कोर्ट में मौजूद रहे और प्रकरणों की सुनवाई कर निराकरण करें। यादव ने आरसीएमएस में दर्ज राजस्व प्रकरणों और उनके निराकरण की स्थिति की समीक्षा भी की ।

राजस्व वसूली में लाएं तेजी
अधिकारियों को राजस्व वसूली में सख्ती बरतने के निर्देश देते हुए इसकी शुरुआत बड़े बकायादारों से करने के निर्देश दिए । उन्होंने कहा कि बड़े बकायादारों को नोटिस जारी किए जाएं और उनके नाम सार्वजनिक भी किए जाएं। यादव ने कहा कि राजस्व वसूली में अच्छा प्रदर्शन करने वाले राजस्व अधिकारियों की सीआर में इसका उल्लेख किया जाएगा। कलेक्टर ने सीएम हेल्पलाईन एवं जनसुनवाई में प्राप्त आवेदनों के निराकरण की स्थिति की समीक्षा भी बैठक में की।

 

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned