25 से होगी धान की खरीदी, प्रक्रिया में किया ये बदलाव

जिला विपणन संघ ने शुरू की तैयारी

जबलपुर। जिले में धान की बम्पर पैदावार को देखते हुए जिला विपणन संघ इसकी खरीदी की तैयारियों में जुट गया है। जिले में 25 नवम्बर से इसकी शुरुआत हो रही है। खरीदी की प्रक्रिया में बारदानों की कमी नहीं हो इसलिए पुराने बारदानों का इस्तेमाल भी खरीदी केन्द्र कर सकेंगे। हालांकि आमतौर पर नए बारदानों का इस्तेमाल किया जाता है।

अधिक बारिश से पैदावार ज्यादा
औसत से अधिक बारिश का फायदा धान की फसल को हुआ है। किसान प्रकृति के इस वरदान से खुश हैं। इसलिए उपार्जन का काम करने वाली एजेंसी एमपी मार्कफेड ने इस सीजन में 4 लाख मीट्रिक टन से ज्यादा धान की पैदावार का अनुमान लगाकर इंतजाम किए हैं। इतनी मात्रा में खरीदी होने से समय पर उपार्जन केंद्रों में बारदाना नहीं पहुंचता। इसलिए उपार्जन नीति में इसका उल्लेख किया गया है कि अच्छी स्थिति वाले पुराने बारदाने उपयोग किए जा सकते हैं।
read also: यहां मिलेगी सस्ती प्याज, व्यापारी लगाएंगे काउंटर

1.10 लाख हेक्टेयर में बोवनी
इस साल जिले में 1.10 लाख हेक्टेयर में धान की उपज लगाई गई है। जिले में बने 64 उर्पाजन केन्द्रों के जरिए धान को बेचने वाले किसानों की संख्या 40 हजार 600 से अधिक हो चुकी है। उन्होंने अपना पंजीयन कराया है। इतनी मात्रा में खरीदी के कारण बारदानों की कमी का सामना उपार्जन समितियों को करना पड़ता है।

reetesh pyasi
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned