scriptPathology center running in the drugstore | यहां दवा दुकान में चल रहा था पैथोलॉजी केंद्र, दो घंटे में दे रहे थे आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट | Patrika News

यहां दवा दुकान में चल रहा था पैथोलॉजी केंद्र, दो घंटे में दे रहे थे आरटीपीसीआर टेस्ट रिपोर्ट

जबलपुर शहर में निजी पैथोलॉजी लैब ज्यादा रुपए लेकर बिना जांच के दे रहे थे कोविड रिपोर्ट

जबलपुर

Published: December 18, 2021 06:42:59 pm

यह है स्थिति
- 4 हजार रुपए तक कोविड जांच शुल्क वसूला गया।
- 2 घंटे में निगेटिव रिपोर्ट दे दी।
- 5-6 घंटे कम से कम आरटीपीसी जांच में लगते हैं।

जबलपुर। कोरोना में अस्पतालों की लूट के बाद अब प्राइवेट पैथोलॉजी लैब का भी कारनामा उजागर हुआ है। मोटी कमाई के लालच में जबलपुर शहर के कई पैथोलॉजी केंद्र कोरोना जांच में भी खेल कर रहे थे। ज्यादा रकम लेकर लोगों को मनमाफिक कोविड जांच रिपोर्ट दे रहे थे। कोरोना जांच में मुनाफे की मलाई पीटने के फेर में एक दवा दुकान ने कोविड टेस्ट की ही सेंपलिंग शुरू कर दी थी। प्राइवेट पैथोलॉजी केंद्रों की लूट और नियमों को ताक पर रखकर जांच रिपोर्ट बनाने का खुलासा स्वास्थ्य विभाग की ओर से कराई गई जांच में जबलपुर में हुआ है। करीब 10 दिन तक चली जांच में दो डॉक्टरों की टीम ने निजी पैथोलॉजी और उनके कलेक्शन एवं पिकअप सेंटर में जाकर अचानक निरीक्षण किया। इसमें पता चला कि निर्धारित शुल्क से चार से पांच गुना तक राशि लेकर दो घंटे में कोविड जांच रिपोर्ट बनाई जा रही है। कुछ मामलों में बिना परीक्षण के ही जांच रिपोर्ट थमा दी गई है। हवाईयात्रा, भर्ती परीक्षा सहित कई स्थानों पर कोविड आरटीपीसीआर रिपोर्ट की अनिवार्यता की लोगों की मजबूरी का पैथोलॉजी केद्रों ने फायदा उठाया। आपदा को कमाई के अवसर में बदलने में दवा दुकान संचालक भी पीछे नहीं रहे। एक दवा दुकान में पैथोलॉजी केन्द्र शुरू कर दिया। कोविड जांच के लिए भी सेंपल एकत्रित करने लगे। जांच में पोल खुलने के बाद इस दवा दुकान के केन्द्र को बंद करा दिया गया है।

rtpcr
rtpcr

ये सेंटर बंद कराए
यादव कॉलोनी स्थित राघव मेडिकल स्टोर में संचालित पैथोलॉजी कलेक्शन सेंटर को तुरंत बंद करा दिया गया है। मामले में औषधि विभाग की ओर से भी शुक्रवार को संचालक को नोटिस जारी किया गया है। एसआरएल के गंगानगर संचालित सेंटर और सबअर्बन के विजय नगर में चल रहे सेंटर को भी अनियमितता पर बंद कराया गया है। जांच में कुछ पैथोलॉजी लैब के अनाधिकृत कई कलेक्शन सेंटर संचालित मिलें हैं। अवैध रुप से कोविड जांच करने वाले पैथोलॉजी सेंटर में जांच टीम के अधिकारी खुद मरीज बनकर गए। ज्यादातर केन्द्रों में कोविड प्रोटोकॉल की धज्जियां उड़ाई जा रही थी। यादव कॉलोनी स्थित राघव मेडिकोज में सांई पैथोलॉजी का बोर्ड टंगा था। अंदर जाकर अधिकारियों ने कोविड जांच के लिए आने की बात कही तो दुकान का कर्मी ही आरटीपीसीआर के लिए नमूना लेने लगा। नामी कंपनियों के पिकअप एवं कलेक्शन सेंटर में भी अकुशल कर्मी पैरामेडिकल स्टाफ का काम करते मिले। स्वास्थ्य विभाग की जांच में गड़बडिय़ां मिलने के बाद सभी पैथोलॉजी लैब को तुरंत पंजीयन एवं आवश्यक अनुमति प्रस्तुत करने का निर्देश दिया गया है। शुक्रवार को कई लैब के संचालक दस्तोवजों के साथ जिला अस्पताल पहुंचें। इनकी सुविधा के लिए कार्यालय में पंजीयन संंबंधी पड़ताल और नए पंजीयन जनरेट करने के लिए एक दल का गठित किया है। इनके जरिए पैथोलॉजी सेंटरों के दस्तोवजों की पड़ताल की जा रही है।

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

Trending Stories

इन नाम वाली लड़कियां चमका सकती हैं ससुराल वालों की किस्मत, होती हैं भाग्यशालीजब हनीमून पर ताहिरा का ब्रेस्ट मिल्क पी गए थे आयुष्मान खुराना, बताया था पौष्टिकIndian Railways : अब ट्रेन में यात्रा करना मुश्किल, रेलवे ने जारी की नयी गाइडलाइन, ज़रूर पढ़ें ये नियमधन-संपत्ति के मामले में बेहद लकी माने जाते हैं इन बर्थ डेट वाले लोग, देखें क्या आप भी हैं इनमें शामिलइन 4 राशि की लड़कियों के सबसे ज्यादा दीवाने माने जाते हैं लड़के, पति के दिल पर करती हैं राजशेखावाटी सहित राजस्थान के 12 जिलों में होगी बरसातदिल्ली-एनसीआर में बनेंगे छह नए मेट्रो कॉरिडोर, जानिए पूरी प्लानिंगयदि ये रत्न कर जाए सूट तो 30 दिनों के अंदर दिखा देता है अपना कमाल, इन राशियों के लिए सबसे शुभ

बड़ी खबरें

Azadi Ka Amrit Mahotsav में बोले पीएम मोदी- ये ज्ञान, शोध और इनोवेशन का वक्तपाकिस्तान के लाहौर में जोरदार बम धमाका, तीन की नौत, कई घायलNEET UG PG Counselling 2021: सुप्रीम कोर्ट ने कहा- नीट में OBC आरक्षण देने का फैसला सही, सामाजिक न्‍याय के लिए आरक्षण जरूरीटोंगा ज्वालामुखी विस्फोट का भारत पर भी पड़ सकता है प्रभाव! जानिए सबसे पहले कहां दिखा असरCorona cases in India: कोरोना ने तोड़ा 8 महीने का रिकॉर्ड; 24 घंटे में 3 लाख से ज्यादा कोरोना के नए केस, मौत का आंकड़ा 450 के पारराहुल गांधी से लेकर गहलोत तक कांग्रेस के नेता देश के विपरीत भाषा बोलते हैं : पूनियांश्रीलंकाई नौसेना जहाज की भारतीय मछुआरों के नौका से टक्कर, सात मछुआरे बाल बाल बचेटीआई-लेडी कॉन्स्टेबल की लव स्टोरी से विभाग में हड़कंप, दो बच्चों का पिता है टीआई
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.