लॉकडाउन के बीच स्टूडेंट्स के लिए स्कूल और कॉलेज से भेजी जा रही हैं पीडीएफ में किताबें

लॉकडाउन के बीच स्टूडेंट्स के लिए स्कूल और कॉलेज से भेजी जा रही हैं पीडीएफ में किताबें

By: abhishek dixit

Published: 27 Mar 2020, 09:09 AM IST

जबलपुर. शहर के कॉलेजों और स्कूलों की परीक्षाएं जहां रद्द कर दी गई हैं, वहीं अब सेशन भी बंद हैं। ऐसे में शहर के टीचर्स और प्रोफेसर्स स्टूडेंट्स के खाली समय को व्यस्त करने के लिए पीडीएफ फॉर्मेट में किताबें दी जा रही हैं। यह किताबें अलग-अलग स्टोरीज की हैं, जो स्टूडेंट्स को खाली समय में पढऩे के काम आ रही है।

मुंशी प्रेमचंद की कहानियां
महाकोशल कॉलेज के प्रो. अरुण शुक्ला ने बताया कि उनके विभाग द्वारा स्टूडेंट्स के लिए मुंशी प्रेमचंद की कहानियों के कलेक्शन को पीडीएफ फॉर्मेट में उपलब्ध करवाया जा रहा है। उनका कहना है कि इससे स्टूडेंट्स को खाली समय में सोशल मीडिया के अलावा भी कुछ करने का मौका मिलेगा।

बनाए हैं कई ग्रुप्स भी
कई टीचर्स और कॉलेजों ने स्टूडेंट्स के ग्रुप भी बनाए गए हैं, जो कि युवाओं को इस तरह की बुक्स, अच्छे थॉट्स और दूसरी चीजें अरेंज करने किए जा रहे हैं। इसमें कॉलेजों के साथ-साथ टीचर्स और विभागों के भी अलग-अलग ग्रुप्स बनाए गए हैं।

इन बुक्स की शेयरिंग
- ईदगाह
- कर्मभूमि
- मधुशाला
- निर्मला
- अंधा युग

coronavirus Coronavirus Outbreak
abhishek dixit
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned