पीइबी का उलटा-पुलटा समीकरण, परीक्षा केंद्रों को फिर बना रहे सैकड़ों किमी दूर

पीइबी का उलटा-पुलटा समीकरण, परीक्षा केंद्रों को फिर बना रहे सैकड़ों किमी दूर

Shyam Bihari Singh | Publish: Feb, 13 2019 01:38:20 AM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

शिक्षक पात्रता परीक्षा का मामला, 16 से होगी परीक्षा

यह है स्थिति
- 16 फरवरी से 10 मार्च तक परीक्षाएं
- 77 हजार से अधिक परीक्षार्थी जबलपुर में होंगे शामिल
- 04 लाख 79 हजार परीक्षार्थी प्रदेश में
- 02 चरणों में परीक्षा
- 10 परीक्षा केंद्र होंगे शहर में
यह है समस्या
- आवेदन में जबलपुर की मांग
- सेंटर भोपाल, इंदौर, रीवा तक
- सर्वाधिक महिलाएं परीक्षार्थी
- आने जाने में अधिक खर्चा
- एक दिन पहले पहुंचना होगा
जबलपुर। माध्यमिक स्कूल शिक्षक भर्ती पात्रता परीक्षा वर्ग दो को लेकर एक बार फिर छात्रों के सामने प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड ने मुश्किलें पैदा कर दी हैं। शहर के हजारों छात्रों के सेंटरों में बदलाव कर दिया है। उनकी ओर से मांगे गए शहर से उलट अन्य शहर दिए गए हैं। कई छात्रों को भोपाल, इंदौर, रीवा तक सेंटर दिए गए। यह परीक्षा 16 फरवरी से 10 मार्च तक होनी है। शिक्षक पात्रता परीक्षा वर्ग एक में इस तरह की समस्याएं सामने आई थीं, इसे लेकर व्यवसायिक परीक्षा मंडल ने कहा था कि अगली परीक्षा में इस तरह का दोहराव नहीं होगा।
77000 से अधिक छात्र
शहर में 77,000 से अधिक परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल होंगे। यह परीक्षा भी ऑनलाइन आयोजित की जा रही है, जो कि दो पालियों में सुबह 9.30 बजे से 12 एवं दोपहर 2.30 से 5.00 के बीच होगी। प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड ने फिलहाल छात्रों के एडमिट कार्ड जनरेट नहीं किए हैं, लेकिन एडमिट कार्ड में परीक्षा का शहर जरूर बता दिया है। जबकि, सेंटर की जानकारी परीक्षा के तीन दिन पहले दी जाएगी।
परीक्षा के लिए ये केंद्र किए गए अधिकृत
शहर के परीक्षा केंद्रों में गुरु तेग बहादुर खालसा कॉलेज, लक्ष्मी बाई साहूजी कॉलेज, तक्षशिला इंजीनियरिंग कॉलेज सेंटर नम्बर वन एवं सेंटर नम्बर टू, ओरिएंटल कॉलेज ऑफ इंजीनियरिंग, हितकारिणी इंजीनियरिंग कॉलेज, जबलपुर इंजीनियरिंग कॉलेज, रेडियंट इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग एंड मैनेजमेंट, एसजीबीएम इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी एंड साइंस, कॉलेज, प्रीमियर इंस्टीट्यूट आफ इंजीनियरिंग कॉलेज शामिल हैं।
कोई भी विभागीय ऑनलाइन सेंटर नहीं
प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड सहित अन्य बोर्ड द्वारा ऑनलाइन परीक्षा का आयोजन किया जा रहा है, लेकिन शहर में कोई भी विभागीय ऑनलाइन सेंटर स्थापित नहीं है। जो सेंटर हैं वे प्राइवेट कॉलेजों से जुड़े हैं। ऐसे सेंटरों की संख्या कम है। शहर में करीब 15 कॉलेजों में ऑनलाइन परीक्षाएं कराने की व्यवस्था है। इनमें से कई अपग्रेड नहीं हंै। दूसरी ओर सीमित सिस्टम हैं। विश्वविद्यालय का ऑनलाइन सेंटर भी अब तक आकार नहीं ले सका है।
परीक्षा कराने के लिए ठेका
जानकारों के अनुसार ऑनलाइन परीक्षाओं से करीब एक दर्जन कंपनियां जुड़ी हैं। कुछ कंपनियों का कॉलेजों से टाइअप है। ऐसी कम्पनी ठेका मिलने पर सम्बंधित कॉलेजों में प्रमुखता देती है। इस बार कम्पनी बदलने के कारण शहर के कुछ बड़े कॉलेजों को परीक्षा से जोड़ा ही नहीं गया, जिनके पास 700 से लेकर 1400 छात्रों का सेटअप था।

माध्यमिक शिक्षक भर्ती पात्रता परीक्षा का आयोजन 16 फरवरी से शुरू हो रहा है। परीक्षा सेटअप एवं तकनीकी कारणों के चलते शहर बदले होंगे। इसकी जानकारी ली जाएगी।
- प्रो. एकेएस भदौरिया, एग्जाम कंट्रोलर पीइबी

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned