Corona virus के चलते लगाए गए कफ्र्यू में आवश्यक वस्तुओं की बिक्री से लोगों को मिली राहत

जिला प्रशासन और पुलिस की ओर से आवश्यक सेवाओं से जुड़ी वस्तुओं दूध, सब्जी, किराना व दवाएं की उपलब्धता सुनिश्चित कराने की बनाई गई रणनीति कारगर रही।

जबलपुर . कोविद-19 (कोरोना वायरस)को लेकर शहर में लगाए गए कफ्र्यू के तीसरे दिन कुद हद तक राहत दिखी। जिला प्रशासन और पुलिस की ओर से आवश्यक सेवाओं से जुड़ी वस्तुओं की उपलब्धता सुनिश्चित कराने की बनाई गई रणनीति कारगर रही। बुधवार की तुलना में लोगों में वस्तुओं के संग्रह को लेकर कम आपाधापी दिखी। दूध, किराना, फल व दवा दुकानों के सामने सोशल डिस्टिेंसिंग वाले गोले और मास्क का फार्मूला फिट बैठा। सुबह 11 बजे के बाद पूरे शहर की सडक़ों पर सन्नाटा पसरा रहा। इस दौरान आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने वाले वाहनों को भी प्रवेश दिया गया।
बेवजह घूमने वालों को ही रोको
जानकारी के अनुसार गुरुवार को शहर में कई जगह सब्जी, फल और राशन की दुकानों को खोलने की अनुमति दी गई। इसके चलते लोगों ने काफी राहत महसूस की। सुबह साढ़े छह बजे से पुलिस की पेट्रोलिंग टीमों ने भ्रमण शुरू कर दिया था। सभी पेट्रोलिंग टीमों को साफ हिदायत दी गई थी कि वे सडक़ पर बेवजह घूमने वालों को ही रोकेंगे।
माइक से करते रहे अलर्ट
शहर में 100 अतिरिक्त मोबाइल टीमों के अलावा डायल-100 और थाने के वाहन लगातार पेट्रोलिंग करते हुए माइक से लोगों को अलर्ट करते रहे। इस दौरान लोगों को यह भी संदेश दिया जाता रहा कि आवश्यक सेवाओं से जुड़ी वस्तुओं की पर्याप्त उपलब्धता है। दोपहर में मॉडल रोड स्थित दवा बाजार में जरूर लोगों की भीड़ के चलते ओमती थाने का बल भिजवाया गया। इसी तरह लटकारी के पड़ाव की गल्ला और सब्जी मंडी में गुरुवार को पुलिस मुस्तैद रही। यहां भी सोशल डिस्टेंसिंग का सख्ती से पालन कराया गया।
प्रभावी कफ्र्यू का असर 18 घंटे
शहर में प्रभावी कफ्र्यू का असर सुबह 11 से शाम छह बजे और रात नौ बजे से सुबह पांच बजे तक ही दिखा। सदर, गोरखपुर, गढ़ा, अधारताल, कोतवाली, गोहलपुर, माढ़ोताल, सिविल लाइंस, मालगोदाम, घमापुर क्षेत्र में अमूमन पूरे समय सन्नाटा पसरा रहा।
सीसीटीवी से भी निगरानी
शहर में 125 स्थानों पर लगे सीसीटीवी कैमरों से भी निगरानी रखी जा रही है। कंट्रोल रूम कमांड सेंटर से जैसे ही किसी जगह पांच से अधिक लोगों की भीड़ दिखती है, तुरंत उस क्षेत्र की पेट्रोलिंग टीम को अलर्ट कर दिया जाता है।
वर्जन-
कोरोना को हराने के लिए सोशल डिस्टिेंसिंग ही कारगर उपाय है। कफ्र्यू का कड़ाई से पालन कराने के निर्देश दिए गए हैं। आवश्यक सेवाओं की उपलब्धता वाले स्थानों पर एक-एक मीटर की दूरी वाले गोले बनवाए गए हैं।
अमित कुमार, एएसपी सिटी

Maha Corona:
IMAGE CREDIT: patrika
Corona virus corona virus in india corona virus origin
Show More
santosh singh Reporting
और पढ़े

MP/CG लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned