MP में पुलिस का आतंक, डरी-सहमी हैं लड़िकियां, घर में घुस कर पुलिस वाला उनसे करता है मारपीट और दुर्व्यहार

-लड़कियों ने एसपी से की मदद की गुहार
-लड़कियों की शिकायत पर पहले भी हो चुका है गिरफ्तार

By: Ajay Chaturvedi

Published: 13 Jul 2021, 01:58 PM IST

जबलपुर. MP में पुलिस का आतंक सा मचा है। पुलिस वाले मोहल्ले की लड़िकियों संग घर में घुस कर मारपीट और दुर्व्यहार करने लगे हैं। ऐसे में कुछ लड़कियों ने एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा से मिल कर मदद की गुहार लगाई है।

बताया जा रहा है कि कटनी में तैनात एक पुलिस वाला मोहल्ले की लड़कियों संग बदतमीजी पर उतारू है। वह पड़ोस की लड़कियों के घरों में घुस कर न केवल उनके साथ मारपीट करता है बल्कि उनके बदतमीजी करता है। लड़कियां पहले भी उस आरक्षक के विरुद्ध एफआईआर दर्ज करा चुकी हैं जिस पर उसे पकड़ा भी गया। लेकिन कुछ ही देर में थाने से ही छूट गया और छूटते ही वह परिवार संग लड़कियों संग बदतमीजी करने लगा है।

घटना के संबंध में महावीर कंपाउंड में किराए से रहने वाली इवॉन पीटर बताती हैं कि वो पढ़ाई के साथ-साथ एक निजी अस्पताल में एचआर मैनेजर है। किराए के मकान में वह अकेले रहती है। उसी कंपाउंड में एक और युवती रहती है जो बीएड की छात्रा है। 10 जुलाई की शाम करीब चार बजे पड़ोस में रहने वाले आरक्षक सचिन कनौजिया ने कंपाउंड परिसर में खड़ी उसकी दो पहिया गाड़ी रॉड मारकर क्षतिग्रस्त कर दी। गाड़ी से तोड़फोड़ होता देख उसने व उसकी सहेलियों ने आपत्ति जताई तो वह जबरन उनके घर में घुस गया और मारपीट करने लगा।

इवॉन ने बताया कि पुलिस आरक्षक सचिन ने उसके साथ बेरहमी से मारपीट की। उसने उसकी सहेली को भी नहीं छोड़ा। उसे भी काफी चोटें आईं हैं। बताया कि कमरे में रखी टेबल से उनकी पिटाई की गई। घायल अवस्था में वो शिकायत लेकर कैंट थाने पहुंची और सचिन के खिलाफ एफआइआर दर्ज करया तो पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया, लेकिन कुछ देर बाद छोड़ दिया। थाने से छूटते ही वह खुद व उसके घरवाले छात्राओं को धमकी देने लगे। पीड़ित युवतियों ने बताया कि बतौर पेइंग गेस्ट वे किराए के भवन में रहती हैं। सचिन से उनका पहले से कोई विवाद नहीं। सचिन कटनी जिले में पुलिस विभाग में तैनात है।

Show More
Ajay Chaturvedi
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned