इस प्रदेश में अब सबसे सस्ती बिजली, अगले बीस साल तक का हुआ इंतजाम

इस प्रदेश में अब सबसे सस्ती बिजली, अगले बीस साल तक का हुआ इंतजाम

deepak deewan | Publish: Jun, 14 2018 02:15:52 PM (IST) Jabalpur, Madhya Pradesh, India

सस्ती बिजली

जबलपुर. महज डेढ़ दशक पहले बिजली के मामले में मध्यप्रदेश की हालत बेहद खराब थी। बड़े-बड़े शहरों में कई घंटों तक पावर कट रहता था, राजधानी भोपाल तक में कई बार रात को अंधेरा पसर जाता था। गांवों की हालत तो बेहद बुरी थी। उन दिनों कई गांवों में तो हफ्तों बाद कभी-कभार कुछ घंटों के लिए बिजली आ जाती थी पर अब तस्वीर बदल चुकी है।

20 साल तक का इंतजाम

मध्यप्रदेश में न केवल भरपूर बिजली उपलब्ध है बल्कि अब दूसरे प्रदेशों को भी बिजली बेची जाने लगी है। अब बिजली की दरों पर भी बिजली कंपनी अंकुश लगाने के लिए काम कर रही है। इस संबंध में एक अहम कदम उठाया गया है। बुधवार को पावर मैनेजमेंट कम्पनी और सोलर एनर्जी कारर्पोरेशन ऑफ इंडिया - सेकी के अधिकारियों के बीच एक अनुबंध हुआ। इस अनुबंध में प्रदेश के किसानों के लिए आने वाले 20 साल तक का इंतजाम कर दिया गया है। किसानों को निर्बाध विद्युत आपूर्ति के लिए यह एग्रीमेंट किया गया है।


2.59 रुपए प्रति यूनिट मिलेगी बिजली
बुधवार को पावर मैनेजमेंट कम्पनी और सोलर एनर्जी कारर्पोरेशन ऑफ इंडिया - सेकी के अधिकारियों के बीच अनुबंध में प्रदेश के किसानों के लिए आने वाले 20 साल तक का इंतजाम कर दिया गया है। जानकारी के अनुसार अनुबंध के अंतर्गत 2.59 रुपए प्रतियूनिट में बिजली मिलेगी। यह बिजली सोलर एनर्जी कारर्पोरेशन ऑफ इंडिया (सेकी) द्वारा खरीदी जाएगी। डिमांड के अनुरूप सेकी द्वारा इसका आवंटन पावर मैनेजमेंट कम्पनी को किया जाएगा। इसके लिए सेकी द्वारा 500 मेगावॉट बिजली देने का अनुबंध किया गया।


सेकी एवं एमपी पावर मैनेजमेंट कंपनी में बनी सहमति
जानकारी के अनुसार रबी सीजन में बिजली की मांग एकाएक बढ़ जाती है। ऐसे में किसानों को निर्बाध विद्युत आपूर्ति के लिए यह एग्रीमेंट किया गया है। पावर मैनेजमेंट कम्पनी के मुख्य महाप्रबंधक राजीव केसकर और सेकी के अतुल्य कुमार नायक ने अनुबंध पर हस्ताक्षर किए। यह अनुबंध लगभग 20 साल के लिए है।

MP/CG लाइव टीवी

Ad Block is Banned