सिर्फ आवास योजनाओं पर फोकस, इंफ्रास्ट्रक्चर को लेकर खाली हाथ

जबलपुर में जेडीए के बजट की तैयारियां शुरू

 

By: shyam bihari

Published: 01 Mar 2020, 08:45 PM IST

यह है स्थिति
-100 करोड़, 50 लाख के लगभग का बजट संभावित
-15 करोड़ रुपए योजनाओं में इंफ्रास्ट्रक्चर विकास के लिए
-16 करोड़ योजनाओं में नए विकास कार्यों के लिए
-30 करोड़ मौजूदा विकास कार्यों के लिए

ये होंगे प्रमुख काम
-रिक्रियेशन सेंटर का निर्माण (योजना क्र.18 में)
-आईएसबीटी के समीप शॉपिंग कॉम्पलेक्स का निर्माण
-योजना 2बी में एलआईजी भवनों का निर्माण
-विजय नगर मेंं 27 ड्यूप्लेक्स भवनों का निर्माण
-जेडीए की अन्य योजनाओं में भवनों का निर्माण

जबलपुर। नए औद्योगिक क्षेत्र, ट्रांसपोर्ट नगर, रेलवे ओवर ब्रिज का इंतजार फिलहाल खत्म नहीं होने वाला है। जबलपुर शहर में मेजर और सर्विस सड़कों की भी सौगात नहीं मिलने वाली है। जबलपुर विकास प्राधिकरण के नए बजट की तैयारी शुरू हो गई है। सूत्रों की मानें तो जेडीए के बजट में इस बार भी इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास के लिए कोई बड़ा प्रोजेक्ट शामिल नहीं किया जाने वाला है। अरबन इंफ्रास्ट्रक्चर विकास के प्रोजेक्ट के मामले में प्राधिकरण पहले से खाली हाथ है। बताया जा रहा है कि अभी भी इसे लेकर किसी बड़ी राशि का प्रावधान नहीं किया जा रहा है। प्राधिकरण का बजट 100 करोड़, पचास लाख रुपए के लगभग का हो सकता है। जिसमें मूल रूप से फोकस आवास योजनाओं पर ही होगा। फिलहाल जेडीए की टीम पिछले साल के आय-व्यय के लेखा-जोखा का विश्लेषण कर रही है।
इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास के मामले में फिलहाल जेडीए के पास कोई भी बड़ा काम नहीं है। पिछले सात साल में अरबन इंफ्रास्ट्रक्चर विकसित करने के नाम पर जेडीए ने अंतरराÓयीय बस टर्मिनस व माढ़ोताल में ओवरब्रिज विकसित करने से इतर कोई बड़ा काम नहीं किया है। यहां तक शहर के यातायात को व्यवस्थित व सुगम बनाने के लिए आवश्यक मेजर व सर्विस सड़कों का भी निर्माण नहीं किया जा रहा है। जिसके कारण शहर की मौजूदा सड़कों पर यातायात का दबाव बढ़ता ही जा रहा है।
पिछला बजट था इस प्रकार
-100 करोड़, 9 लाख रुपए का बजट
-01 करोड़ 75 लाख माढ़ोताल के विकास के लिए
-3.50 करोड़ नए विकास कार्यों के लिए
-35 करोड़ 75 लाख का प्रावधान 11 प्रमुख विकास योजनाओं के लिए

shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned