scriptPushya Nakshatra,shopping,many type market,good sale,Bussines | ग्राहक ज्यादा, कम पड़ गईं कार | Patrika News

ग्राहक ज्यादा, कम पड़ गईं कार

पुष्य नक्षत्र पर 215 करोड़ से ज्यादा का कारोबार, रियल इस्टेट, सराफा और ऑटोमोबाइल में रहा उठाव

 

जबलपुर

Updated: October 29, 2021 12:20:01 pm

जबलपुर. पुष्य नक्षत्र पर बाजार में खूब खरीदारी हुई। सोना और चांदी के आभूषणों से लेकर मकान और प्लॉट की अच्छी बिक्री हुई। जिले के सभी रजिस्ट्री कार्यालयों में पूरे दिन क्रेता एवं विक्रेताओं का तांता लगा रहा। ऑटोमोबाइल क्षेत्र में कार खरीदने वाले ज्यादा, स्टॉक कम था। अनुमान के अनुसार गुरुवार रात तक शहर में 200 करोड़ रुपए से ज्यादा का कारोबार हुआ।
automobile
Cars sold well. 80 to 90 cars were delivered from the showroom. Dealers say that had the stock been more, this number could have gone up.
शहर के प्रमुख व्यापारिक क्षेत्रों के अलावा आसपास के बाजारों में स्थित शोरूम एवं दुकानों में ग्राहकों ने खरीदी की। इस दिन लगभग हर क्षेत्र में कंपनियों एवं शॉप संचालकों ने आकर्षक ऑफर रखे थे। कहीं कैशबैक मिला, तो कहीं वस्तुओं के रूप में उपहार मिले। बाजार इसलिए भी चला, क्योंकि राज्य एवं केंद्र सरकार के कर्मचारियों को महंगाई भत्ता और बोनस के साथ ही वेतन भी मिल गया है।
ग्राहक ज्यादा, कम पड़ गईं कारग्राहक ज्यादा, कम पड़ गईं कारऑटोमोबाइल

कारों की खूब बिक्री हुई। 80 से 90 कारों की डिलेवरी शोरूम से हुई। डीलर्स का कहना है कि स्टॉक अधिक होता, तो यह संख्या बढ़ सकती थी। हर सेगमेंट की कारों की बिक्री हुई। कुछ ग्राहकों ने पहले से बुकिंग करवा रखी थी, तो ज्यादातर शुभ मूहूर्त पर पहुंचे। मोटरसाइकल और स्कूटर का बाजार भी खूब चला। अनुमान के अनुसार शहर में सभी मोटरसाइकिल डीलर्स के यहां से 12 से 15 सौ बाइक्स एवं स्कूटर की बिक्री हुई।
आभूषण बाजार

सराफा बाजार में सुबह से लेकर रात तक दुकानों में आभूषण खरीदने वाले नजर आए। बड़े शोरूम में ग्राहकों की संख्या अधिक थी। छोटी दुकानोंं में भी खरीददार कम नहीं रहे। उन्होंने हल्के एवं वजन वाले गहनें खरीदे। ज्यादा बिक्री सोने से बने आभूषणों की हुई। ज्यादातर ग्राहकों ने हॉलमार्क जेवर ही खरीदे। अभी दामों में स्थिरता भी बनी हुई है।
रियल इस्टेट

मकानों हो या प्लॉट सभी की बिक्री अपेक्षा के अनुरूप हुई। ज्यादातर ग्राहकों ने रेडी टू पजेशन वाले मकानों को खरीदा। यही नहीं अफोर्डेबल हाउसिंग की तरफ भी ग्राहकों का रुझान रहा। अनुमान के अनुसार पुष्य नक्षत्र के शुभ मुहूर्त पर जिले में 300 से अधिक सम्पत्तियों की खरीदी एवं बिक्री हुई। इसमें मकान, फ्लैट्स, ड्यूप्लेक्स, विला, बंगला, दुकान, कमर्शियल कॉम्प्लेक्स के अलावा खेती की जमीन भी शामिल थी।
इलेक्ट्रानिक्स

इलेक्ट्रॉनिक्स मार्केट भी खूब चला। इलेक्ट्रॉनिक्स उत्पादों के स्टोर में ज्यादा भीड़ दिखाई दी। कंपनियों ने इस मौके पर नए मॉडल उतारने के साथ ही ऑफर्स भी निकाले थे। उनका लाभ ग्राहकों ने उठाया। इस बीच सबसे ज्यादा टीवी, वॉशिंग मशीन, फ्रीज, गीजर, म्यूजिक सिस्टम, लैपटॉप एवं माइक्रोवेव सहित अन्य वस्तुओं का अच्छा कारोबार हुआ।
कपड़ा बाजार

रेडीमेड गारमेंट से लेकर साडिय़ों की दुकानों में पूरा परिवार खरीदी के लिए निकला। दीपावली नजदीक होने के कारण लोगों ने पसंद के कपड़े खरीदे। बच्चों के कपड़ों की खरीदी भी मुख्य बाजार के साथ ही उपनगरीय क्षेत्रों की दुकानों में हुई। इस सीजन में पुरुषों के परिधानों में जींस, पैंट और शर्ट के अलावा कुर्ता-पैजामा भी खूब बिके।
ग्राहक ज्यादा, कम पड़ गईं कार एक दिन में 285 रजिस्ट्री

इस बीच जिले में पुष्य नक्षत्र पर संपत्ति की खरीदी बिक्री खूब हुई। रजिस्ट्री कार्यालय में काफी भीड़भाड़ रही। इस बीच उप पंजीयक कार्यालय में रात तक करीब 285 रजिस्ट्री हुई। अनुमान के अनुसार शासन को सवा दो करोड़ रुपए से ज्यादा का राजस्व रजिस्ट्री के जरिए हुआ।
कहां कितना कारोबार

कारोबार -- बिक्री

रियल इस्टेट 70-8

ऑटोमोबाइल 15-18

ज्वेलरी 70-80

कपड़ा 10-12

इलेक्ट्रॉनिक्स 15-20

नोट राशि करोड़ रुपए में

सबसे लोकप्रिय

शानदार खबरें

Newsletters

epatrikaGet the daily edition

Follow Us

epatrikaepatrikaepatrikaepatrikaepatrika

Download Partika Apps

epatrikaepatrika

बड़ी खबरें

Subhash Chandra Bose Jayanti 2022: आज इंडिया गेट पर सुभाष चंद्र बोस की होलोग्राम प्रतिमा का PM Modi करेंगे लोकार्पणCovid-19 Update: भारत में कोरोना के 3.37 लाख नए मामले, मौत के आंकड़ों ने तोड़े सारे रिकॉर्डUP चुनाव में PM Modi से क्यों नाराज़ हो रहे हैं बिहार मुख्यमंत्री नितीश कुमारU19 World Cup: कौन है 19 साल का लड़का Raj Bawa? जिसने शिखर धवन को पछाड़ रचा इतिहासSubhash Chandra Bose Jayanti 2022: पढ़ें नेताजी सुभाष चंद्र बोस के 10 जोशीले अनमोल विचारCG-महाराष्ट्र सीमा पर चेकिंग में लगे पुलिस जवानों से मारपीट, कोरोना जांच पूछा तो गाली देते हुए वाहन सवार टूट पड़े कांस्टेबल परसरकार का बड़ा फैसला, नई नीति में आमजन व किसानों को टोल टैक्स से छूटछत्तीसगढ़ में 24 घंटे में 11 कोरोना मरीजों की मौत, दुर्ग में सबसे ज्यादा 4 संक्रमितों की सांसें थमी, ज्यादातार वे जिन्होंने वैक्सीन नहीं लगाया
Copyright © 2021 Patrika Group. All Rights Reserved.