सिलेबस से बाहर के सवाल,छात्रों ने किया बवाल

सिलेबस से बाहर के सवाल,छात्रों ने किया बवाल

Mayank Kumar Sahu | Publish: Feb, 15 2019 12:40:35 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

शिक्षक पात्रता परीक्षा मामला, प्रश्न पत्रों को लेकर उठाए सवाल, मुख्यमंत्री से की मांग 10 प्रतिशत प्राप्तांक में मिले छूट

जबलुपर।स्कूल शिक्षा विभाग द्वारा लंबे अर्से के बाद आयोजित की जा रही शिक्षक पात्रता परीक्षा के प्रश्न पत्रों को लेकर सवाल खड़ा हो गया है। परीक्षा के लिए तैयार किए गए सिलेबस को लेकर अभ्यार्थियों ने उंगलियां उठाई हैं। सिलेबस से बाहर के सवाल आने से वर्षों से मेहनत कर रहे छात्र, निजी स्कूलों में पढ़ाने वाले शिक्षक भी हतप्रभ है। बुधवार को बड़ी संख्या में पीडि़त अभ्यार्थियों ने कलेक्ट्रेट पहुंचकर प्रोफेशनल एग्जामिनेशन बोर्ड द्वारा कराई जा रही शिक्षक पात्रता परीक्षा में आउट ऑफ कोर्स सवाल पूछे जाने का विरोध जताया और मुख्यमंत्री के नाम कलेक्टर को ज्ञापन सौंपकर दोबारा परीक्षा आयोजित कराने अथवा निर्धारित अर्हता प्राप्तांक में 10 प्रतिशत की छूट देने की मांग की है यदि उचित कार्रवाई नही होती है तो आंदोलन करने बाध्य होंगे। परीक्षार्थी रुपा सिंह, रश्मी सहगल, अंजूलता यादव, माया ठाकुर आदि ने बताया कि पीईबी द्वारा पूर्व निर्धारित सिलेबस के अनुरुप परीक्षा नहीं ली गई बल्कि प्रश्न पत्र 95 फीसदी आउट ऑफ सिलेबस आया है। फार्म भरते समय पीईबी द्वारा निर्देश जारी किए गए थे कि प्रश्न पत्र का स्तर स्नातक स्तर का होगा लेकिन एेसा नहीं था।

वर्षों से कर रहे थे तैयारी

गरिमा सिंह, शोभा गुप्ता, घनश्याम साहू, राकेश पटेल, रश्मि पटेल आदि ने कहा कि कैमेस्ट्री, सोशलॉजी विषय में सिलेबस के आधार पर विभिन्न लेखकों की पुस्तक से तैयारी कर रहे थे। लेकिन सिलेबस से बाहर के सवाल पूछे गए। एेसी ही स्थिति पॉलिटिकल साइंस, फिजिक्स में भी सामने आई। 50 प्रतिशत से अधिक प्रश्न गणितीय आंकलन और विश्लेषण आधारित थे जिसे निर्धारित समय में पूरा किया जाना संभव नहीं था। परीक्षार्थियों आकांक्षा यादव, रेखा चौहान, रागिनी सिंह, मनीष मरकाम आदि ने मुख्यमंत्री से मामले की जांच कर परीक्षा हेतु निर्धारित न्यूनतम अर्हकारी प्राप्तांक में 10 प्रतिशत की छूट प्रदान करने की मांग की है।

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned