retired phe officer का निकला नेता कनेक्शन, 4 अरब की संपत्ति का खुलासा

retired phe officer का निकला नेता कनेक्शन, 4 अरब की संपत्ति का खुलासा
retired phe officer: suresh upadhyay ka bjp connection

Lalit Kumar Kosta | Updated: 27 Jun 2019, 01:55:50 PM (IST) Jabalpur, Jabalpur, Madhya Pradesh, India

कारोबार में डॉक्टर, जमीन में सीए और बिल्डर पार्टनर, नेता के परिजन से भी जुड़े तार

 

जबलपुर . बिलहरी रोड स्थित अनंततारा निवासी रिटायर्ड पीएचइ ( retire PHE officer ) एसडीओ सुरेश उपाध्याय के आवास और कार्यालय में इओडब्ल्यू ( EOW ) की टीम बुधवार को दूसरे दिन भी जांच में जुटी रही। उनकी कंपनियों और जमीनों में निवेश के मामले मेंकई रसूखदार साझेदार शामिल होने संबंधी दस्तावेज भी मिले। EOW द्वारा जब्त दस्तोवजों में रिटायर्ड एसडीओ की पत्नी की हिस्सेदारी वाली फूड फैक्ट्री में एक डॉक्टर का कालाधान लगा है। एसडीओ के साथ जमीन में नेता, चार्टर्ड एकाउंटेंट और कई बिल्डर साझेदार मिले हैं।

news facts-

- retire phe officer के यहां इओडब्ल्यू की टीमों की लगातार दूसरे दिन जांच,
- यादव कॉलोनी में दो प्लॉट एवं एक हॉस्टल सहित 132 एकड़ जमीन के दस्तोवज मिले

 

retired phe officer

एक नेता से भी कनेक्शन
रिटायर्ड एसडीओ की पत्नी BJP पार्षद रही है। सूत्रों के अनुसार जांच में जब्त दस्तोवजों में रिटायर्ड एसडीओ के साथ जमीन के खेल में एक नेता के परिजन भी शामिल मिले हैं। इस नेता के परिजनों के नाम पर भी जमीन में निवेश के दस्तोवज बरामद हुए हैं। यह जमीनें कजरवारा, उमरिया, तिलहरी, बिलहरी में हैं। इसमें बड़ी मात्रा में आदिवासियों की जमीनों को खरीदकर रसूख के जरिए डायवर्ट कराकर डेवलप किया जा रहा है। कारोबार में दरयानी परिवार की साझेदारी के भी दस्तोवज मिले है।


EOW एसपी डीएस राजपूत का कहना है कि सुरेश उपाध्याय के आवास सहित अन्य परिसर की चार टीमों ने जांच की है। सुरेश और उसके परिजनों के नाम पर 132 एकड़ जमीन की जानकारी का सत्यापन हुआ है। 151 प्लॉट, एक हॉस्टल के दस्तावेज मिले है। जांच में मिले जमीन और कारोबार में निवेश संबंधी सभी दस्तोवजों के सत्यापन की प्रक्रिया जारी है।

 

retired phe officer

इओडब्ल्यू की चार अलग-अलग टीमों की जांच में retire phe एसडीओ ओर उसके परिजनों के नाम पर अलग-अलग जगह पर 132 एकड़ (72 भूखंड) के साथ ही जय नगर में 24-24 स्क्वेयर फीट के दो प्लॉट और उसमें एक पर हॉस्टल संचालित मिला है। जमीन में निवेश के भारी मात्रा में दस्तावेज मिलने पर उनकी जांच के लिए राजस्व विभाग के अधिकारियों की मदद ली गई है। तहसीलदार एसएस आनंद की टीम के साथ ही डीएसपी राज्यवर्धन माहेश्वरी की अगुवाई में बनी टीम सहित इओडब्ल्यू की टीम रात तक दस्तोवज खंगालती रही। 132 एकड़ जमीन के साथ ही चैतन्य सिटी में 150 प्लॉट और जय नगर (यादव कॉलोनी) की संपत्तियों का सत्यापन किया।

 

retired phe officer

11 बैंक खाते सीज, मांगा ब्योरा
इओडब्ल्यू की ओर से छापे में जब्त दस्तावेज के आधार पर बैंकों से भी स्टेटमेंट मांगा गया है। बैंक लॉकर्स की भी जानकारी मांगी है। सूत्रों के अनुसार प्रारंभिक जांच में पता चला है कि 11 में 6 बैंक खाते पत्नी एवं बेटे के नाम पर हैं। पांच खाते अलग-अलग कंपनियों के नाम पर है। बैंक खातों और लॉकर्स के खुलने पर और नई संपत्तियों का पता चल सकता है। परिजनों के नाम पर किए गए निवेश की और जानकारियां सामने आने का अनुमान है।

 

retired phe officer

MP/CG लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned