बहुत कुछ कहता है खूबसूरत वादियों में वीरानी का यह सन्नाटा

लॉकडाउन : जबलपुर के भेड़ाघाट में ढाई माह में 31 लाख रुपए की राजस्व क्षति, कर्मचारियों के वेतन-भत्ते के भुगतान में हो रही परेशानी

 

By: shyam bihari

Published: 24 May 2020, 09:03 PM IST

अप्रैल से 15 जून तक क्षति (रुपए में)
स्रोत : आय
नौकायन : 21.29 लाख
वीआईपी गेट एंट्री : 2.40 लाख
वाहन स्टैंड : 07 लाख

जबलपुर। खूबसूरती वादियों वाले भेड़ाघाट में इन दिनों वीरानी का सन्नाटा पसरा है। नर्मदा का कल-कल और दिलकश हो गया है। लेकिन, उसे देखने वाले नहीं हैं। धुआंधार में धुआं है। लेकिन, सेल्फी लेने वाले नहीं हैं। एक तरह से लॉकडाउन का असर जबलपुर शहर के पर्यटन क्षेत्र पर बहुत पड़ा है। इसमें धुआंधार प्रपात और संगमरमरी चट्टानों के लिए विश्व प्रसिद्ध भेड़ाघाट भी शामिल है। हर समय पर्यटकों से आबाद रहने वाला भेड़ाघाट लॉकडाउन के कारण पहली बार पिछले ढाई महीने से वीरान है। पर्यटन बंद होने से धुआंधार के वीआईपी गेट की एंट्री और तीन स्टैंड से होने वाली आय भी नहीं हो रही है। नौकायन पर भी प्रतिबंध है। इससे नगर पालिका परिषद को 31 लाख रुपए से अधिक की राजस्व क्षति हुई है। इसका असर भेड़ाघाट की बुनियादी सुविधाओं कि विकास पर पड़ रहा है। नगर पालिका परिषद के अधिकारी-कर्मचारियों को वेतन भी नहीं मिल रहा है। यहां दुकान लगाने वाले शिल्पियों के समक्ष रोजी-रोटी का संकट आ गया है।
जानकारी के अनुसार प्रदेश शासन ने वित्तीय वर्ष 2018-19 में भेड़ाघाट का मासिक बजट 20 लाख से घटाकर 14 लाख रुपए कर दिया है। जबकि नगर पालिका परिषद को हर माह 20 लाख रुपए वेतन-भत्ते और तीन लाख रुपए जलापूर्ति एवं पथ प्रकाश व्यवस्था पर खर्च करना पड़ता है। पर्यटन बंद होने से राजस्व को क्षति हो रही है। अन्य प्रोजेक्ट के तहत कराए गए 15 लाख रुपए से अधिक के कार्यों का भुगतान भी अटक गया है। कोरोना संक्रमण के कारण 31 मई तक लॉक डाउन है। 15 जून से तीन महीने के लिए पर्यटन बंद हो जाएगा, जो 15 अक्टूबर के बाद शुरू होगा। नगर पालिका परिषद भेड़ाघाट के सीएमओ एके रावत ने बताया किभेड़ाघाट में पर्यटन बंद होने से ढाई माह में 31 लाख रुपए से अधिक की राजस्व क्षति हुई है। नगर पालिका परिषद के मासिक खर्च 23 लाख की तुलना में 14 लाख रुपए बजट मिल रहा है। इससे बुनियादी कार्य एवं कर्मचारियों को वेतन-भत्ते भी नहीं दे पा रहे हैं।

shyam bihari Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned